STF ने पन्ना के बाघ पी-123 के सिर और अन्य अवयवों को काटने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार

0
9

shadik khan

पन्ना, पन्ना के बाघ पी-123 के‍सिर और अन्य अवयवों को काटने वाले तीन आरोपियों को स्पेशल टॉस्क फोर्स (वन्य-प्राणी) और पन्ना टाइगर रिजर्व ने 9 अगस्त, 2020 को अंजाम दिये गये वन अपराध में कार्यवाही करते हुए गिरफ्तार कर लिया है। प्रधान वन संरक्षक (वन्य-प्राणी) द्वारा अमले के उत्कृष्ट कार्य के लिये उन्हें सम्मानित किया जायेगा।

प्रधान वन संरक्षक (वन्य-प्राणी) ने बताया कि आरोपियों छतरपुर जिले के ग्राम पलकोहा निवासी घनश्याम कुशवाह उर्फ डॉक्टर, अच्छेलाल पिता भूरा और नत्थू मोती ने अपराध स्वीकार कर लिया है। आरोपियों ने बताया कि बाघ के अंगों को काटने के बाद पकड़े जाने के डर से केन नदी में फेंक दिया था और अंगों को काटकर गाड़ दिया था। उस स्थल से भी एसटीएफ द्वारा कुछ अवशेष जब्त किये गये हैं। इन्हें फॉरेंसिक जाँच के लिये भेजा रहा रहा है।

उल्लेखनीय है कि केन नदी में एक बाघ पी-123 का शव 10 अगस्त, 2020 को तैरता हुआ मिला था, जिसमें बाघ का सिर और अन्य अवयव गायब पाये गये थे।