अवैध गतिविधियां संचालित पाए जाने पर कराएं एफआईआर: कलेक्टर

0
2

सुरखी विधानसभा क्षेत्र उप चुनाव हेतु 30 सेक्टर अधिकारी नियुक्त

सेक्टर अधिकारियों को टीम के साथ निरीक्षण करने किया रवाना

anil dubey
सागर, अवैध गतिविधियां संचालित पाए जाने पर एफआईआर दर्ज कराएं। उक्त निर्देश कलेक्टर दीपक सिंह ने शनिवार को सुरखी विधानसभा क्षेत्र उप चुनाव हेतु 30 सेक्टर अधिकारियों को उनकी टीम के साथ निरीक्षण हेतु रवाना करते हुए आयोजित बैठक में दिए।

कलेक्टर दीपक सिंह ने सेक्टर अधिकारियों को रवाना करते हुए कहा कि 24 घंटे के अंदर अपने-अपने सेक्टर के मतदान केन्द्रों के साथ ग्राम का निरीक्षण कर रविवार दोपहर 12 बजे प्रतिवेदन प्रस्तुत करें। उन्होंने निर्देश दिए कि संबंधित मतदान केन्द्र एवं संबंधित ग्रामों में यह देखें भी कहीं शासकीय संपत्ति पर चुनाव प्रचार-प्रसार तो नहीं किया जा रहा और निजी संपत्ति पर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। उसकी अनुमति है या नहीं, यदि नहीं है तो तत्काल संबंधित के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएं। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान मिलने वाले वाहनों की सूक्ष्मता से जांच करें। जांच में देखा जाए कि वाहन में किसी प्रकार की अवैध प्रकार की सामग्री तो नहीं है। वाहन में हूटर, फिल्म, नंबर प्लेट के अतिरिक्त किसी प्रकार की अन्य प्लेट, पोस्टर, बैनर, फ्लैक्स तो नहीं लगा है, यदि उक्त सामग्री पाई जाती है तो तत्काल मोटर व्हीकल अधिनियम के तहत जप्ती की कार्यवाही करें।

कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि संबंधित मतदान केन्द्र के ग्राम में यह भी देखें के मतदान केन्द्र के 100 मीटर के अंदर कोई राजनैतिक दल का कार्यालय या आवास तो नहीं है। उन्होंने निर्देश दिए कि संबंधित ग्रामों में अवैध शराब का विक्रय तो नहीं हो रहा है। साथ ही समस्त शस्त्रों को संबंधित थाना या डीलर के यहां जमा कराया गया है या नहीं, यदि उक्त चीजें पाई जाती है तो संबंधित के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएं। श्री सिंह ने निर्देश दिए कि यह भी सुनिश्चित करें कि जिन वाहनों से प्रचार-प्रसार किया जा रहा है, उनकी अनुमति सक्षम अधिकारी से ली गई है या नहीं और चुनाव प्रचार-प्रसार रात्रि 10 से सुबह 6 बजे पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा।

उन्होंने बताया कि सेक्टर अधिकारी के साथ एक कार्यपालिक दण्डाधिकारी, तहसीलदार, पुलिस अधिकारी एवं दो पुलिस के आरक्षकों को शामिल किया गया है जो अपने-अपने सेक्टर का निरीक्षण उपरांत कार्रवाई कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करें।
इस अवसर पर अपर कलेक्टर अखिलेश जैन, डिप्टी कलेक्टर प्रकाश नायक, आदित्य शर्मा, सीएल वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विक्रम सिंह, नगर दण्डाधिकारी पवन बारिया, समस्त एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार उपस्थित थे