बंधन फाइनेंशियल होल्डिंग्स लिमिटेड अपनी हिस्सेदारी घटाकर 40 फीसदी की

0
1

नई दिल्ली
निजी क्षेत्र के बंधन बैंक  ने आज कहा कि उसकी होल्डिंग कंपनी बंधन फाइनेंशियल होल्डिंग्स लिमिटेड (BFHL) ने बैंक में अपनी हिस्सेदारी घटाकर 40 फीसदी कर दी है। आरबीआई की लाइसेंसिग गाइडलाइंस का पालन करने के लिए ऐसा किया गया है। बैंक ने एक नियामकीय जानकारी में बताया कि आरबीआई ने 22 फरवरी, 2013 को निजी क्षेत्र के नए बैंकों के लिए लाइसेंसिंग की गाइडलाइंस जारी की थी। इसके मुताबिक बीएफएचएल को बंधन बैंक में अपनी हिस्सेदारी घटाकर बैंक की चुकता पूंजी के 40 फीसदी तक लाना जरूरी था।

बयान के मुताबिक गृह फाइनेंस लिमिटेड के विलय और 21 अक्टूबर 2019 को गृह के शेयरधारकों को ताजा इक्विटी शेयर जारी किए जाने से बैंक में बीएफएचएल की हिस्सेदारी 82.26 फीसदी से घटकर 60.96 फीसदी रह गई थी। लाइसेंसिंस गाइडलाइंस के अनुपालन के लिए बीएफएचएल ने अपनी 20.95 फीसदी अतिरिक्त हिस्सेदारी सेकंडरी मार्केट में बेच दी है। कंपनी ने 10 रुपये अंकित मूल्य के अपने 337367189 शेयर बेचे। इस सौदे के बाद बैंक में उसकी हिस्सेदारी घटकर 40 फीसदी रह गई है। बीएसई पर आज बैंक का शेयर 10.60 फीसदी की गिरावट के साथ 308.65 रुपये पर बंद हुआ।

बंधन बैंक ने अगस्त 2018 में एक यूनिवर्सल बैंक की तरह अपना ऑपरेशन शुरू किया था। 17 अक्टूबर 2019 को एचडीएफसी लिमिटेड की हाउसिंग विंग GRUH फाइनेंस का बंधन बैंक के साथ मर्जर हो गया था। वित्त वर्ष 2020 में बंधन बैंक ने करीब 47 फीसदी की बढ़त हासिल की है।