दिवाली, छठ पर घर पहुंचना होगा मुश्किल, 25 अक्टूबर से 10 दिसंबर तक यूपी-बिहार की ट्रेनों में कोई जगह नहीं

0
2

अहमदाबाद
सूरत में रहने वाले बिहार और यूपी के लोगों को दिवाली और छठ में घर जाने के लिए ट्रेनों के टिकट नहीं मिल रहे हैं। वर्तमान में चल रही सभी गाड़ियां 25 अक्टूबर से लेकर 10 दिसंबर तक फुल हो चुकी हैं। ट्रेनों में जो हाल हर साल अप्रैल, मई, जून में होती थी, उससे ज्यादा विकट स्थिति इस बार मध्य अक्टूबर से दिसंबर के पहले सप्ताह तक होगी। सूरत से चलने व यहां से होकर गुजरने वाली ट्रेनों में से अवध एक्सप्रेस में नवंबर में 200 वेटिंग है, ताप्ती गंगा एक्सप्रेस, अहमदाबाद-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस, अहमदाबाद-गोरखपुर एक्सप्रेस, वलसाड-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस और बांद्रा-गोरखपुर एक्सप्रेस में टिकट रिग्रेट हो चुकी है।

रेलवे अगर इस बार स्पेशल ट्रेनें भी चलाती हैं तो भी ज्यादा असर नहीं पड़ेगा, क्योंकि दीवाली, छठ पूजा और शादी-विवाह के लिए लोग एक ही समय पर गांव जाएंगे। इस बार अप्रैल, मई और जून, जुलाई तक लगभग 26 से ज्यादा शादी के मुहूर्त थे। इसे लेकर बड़ी संख्या में ट्रेन के टिकट बुक हुए थे। ट्रेनें अप्रैल से मई तक रिग्रेट हो चुकी थीं, लेकिन लॉकडाउन होने से अधिकतर शादियां रद्द हो गई थी। अब ये शादियां 25 नवंबर से 11 दिसंबर के बीच होंगी। इससे अप्रैल-मई वाली भीड़ अब नवंबर में दिखेगी। इसके अलावा दिवाली और छठ पूजा पर यूपी-बिहार जाने वालों की हर साल की तरह भीड़ होगी।

पहली बार बड़ी संख्या में लग्न और दोनों त्योहार की भीड़ एक ही समय होने वाली है। उत्तर पश्चिम रेलवे जोन के शेड्यूल के अनुसार 02996 अजमेर-बांद्रा त्रैसाप्ताहिक एक्सप्रेस एक अक्टूबर से मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को चलेगी। 02995 बांद्रा-अजमेर एक्सप्रेस दो अक्टूबर से हफ्ते में बुधवार, शुक्रवार और रविवार को चलेगी।

02901 बांद्रा-उदयपुर त्रैसाप्ताहिक ट्रेन एक अक्टूबर से मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को चलेगी। 02902 उदयपुर-बांद्रा एक्सप्रेस दो अक्टूबर से हफ्ते में बुधवार, शुक्रवार और रविवार को चलेगी। 02844/43 अहमदाबाद-खुर्दा रोड ट्रेन एक अक्टूबर से पुरी स्टेशन तक जाएगी। इसी तरह 08406/05 अहमदाबाद-भुवनेश्वर को दो अक्टूबर से पुरी तक, 08402/01 ओखा-खुर्दा रोड को 7 अक्टूबर से पुरी तक, जबकि 02973/74 गांधीधाम-खुर्दा रोड को 30 अक्टूबर से पुरी तक चलाया जाएगा।