कोरोना को हरा राहुल कुमार पहुंचे घर

0
57

बिहार के इस लाल ने जीती जंग, अस्‍पताल से हुई घर वापसी

पटना, कोरोना वायरस से जूझ रहे बिहार से एक अच्‍छी खबर आई है। पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में भर्ती एक मरीज ने कोरोना से लड़ाई में जीत हासिल की है। फुलवारी शरीफ के रहने वाले राहुल कुमार को बुधवार को डिस्‍चार्ज कर दिया गया। उनकी रिपोर्ट दो बार नेगेटिव आने के बाद उन्‍हें डिस्‍चार्ज करने का फैसला डॉक्‍टर्स ने किया। एंबुलेंस से उन्‍हें घर भेज दिया गया है। हालांकि, अगले 14 दिन तक उन्‍हें होम क्‍वारंटीन में रहना होगा। राहुल स्‍कॉटलैंड से लौटकर आए थे। जब उनका COVID-19 टेस्‍ट पॉजिटिव आया तो 22 मार्च को उन्‍हें NMCH में भर्ती कराया गया। यहां करीब डेढ़ सप्‍ताह तक उनका इलाज चला। अब वह कोरोना मुक्‍त हो गए हैं।
डिस्‍चार्ज होकर क्‍या बोले राहुल
स्कॉटलैंड में कंप्यूटर साइंस से इंजीनियरिंग कर रहे राहुल ने आम लोगों से कोरोना से बिल्कुल भी नही घबराने की अपील की। उन्‍होंने लोगों से इस बीमारी का डटकर मुकाबला करने को कहा है। राहुल का कहना है कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज अगर डॉक्टरों की हर सलाह को माने तो कोरोना को आसानी से हराया जा सकता है।

राज्‍य में COVID-19 के टोटल 23 मामले
बिहार में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्यर में सात लोगों में कोरोनावायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि राज्य में संक्रमित लोगों की संख्या बुधवार को बढ़कर 23 हो गई है। बिहार के स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बुधवार को बताया, “बिहार में अबतक के कुल 23 कोरोना पजिटिव केस पाए गए हैं। आज सुबह तक के आंकड़ों के अनुसार कुल 23 पॉजिटिव केस सामने आए हैं।”

देश में कोरोना वायरस फैलने की स्पीड मंगलवार को दोगुनी हो गई है। मंगलवार को घातक कोरोना वायरस के 315 मामले सामने आए हैं, इसके साथ ही कुल केसों की संख्या 1600 के पार पहुंच गई है। मंगलवार को कोरोना के सबसे ज्यादा केस महाराष्ट्र से 82 और तमिलनाडु से 57 देखने को मिले।

मंगलवार को कहां से आए मामले?
मंगलवार को एक मामला गया से आया था, जबकि चार मामले सिवान से आए थे। सिवान से आए सभी संक्रमितों की ट्रैवल हिस्ट्री विदेश रही है। इसके अलावा एक बेगूसराय से मामला सामने आया है, जिसकी भी विदेश ट्रैवल हिस्ट्री है। वहीं एक मरीज नालंदा से है।

मुंगेर के एक व्‍यक्ति की हुई है मौत
मुंगेर के एक संक्रमित व्यक्ति की 21 मार्च को पटना एम्स में मौत हो गई थी। कतर से लौटे मुंगेर निवासी के संपर्क में आने से उसके दो पड़ोसियों में कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। बाद में मुंगेर के संक्रमित व्यक्ति को पटना के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से भी दो लोगों को संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। गया के संक्रमित व्यक्ति के भी उसके संपर्क में होने की बात कही जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here