बिना अनुमति संचालित हो रहीं मांस दुकानों को किया सील

0
3

amjad khan
शाजापुर। बिना अनुमति के शहर में संचालित हो रही मांस दुकानों पर प्रशासन ने कार्रवाई कर दुकानों को सील कर दिया। वहीं दुकान संचालकों को चेतावनी भी दी गई कि यदि उन्होने बिना परमिशन मांस दुकानों का संचालन किया तो कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि गतदिनों जिला कलेक्टर दिनेश जैन ने अधिनस्थ अधिकारियों को निर्देशित किया था कि वे शहर में बिना अनुमति के यहां-वहां चल रही मांस दुकानों को बंद कराकर उन्हे संचालित करने के लिए अन्यत्र स्थान को चिन्हित करें। कलेक्टर के इस आदेश के बाद शुक्रवार को तहसीलदार मुन्ना अड़ और नगरपालिका का अमला शहर में कार्रवाई करने के लिए निकल पड़ा। तहसीलदार श्री अड़ ने बताया कि करीब 16 से अधिक अवैध रूप से संचालित हो रही मांस दुकानों को सील करने की कार्रवाई की गई है। मांस व्यापारियों को निर्देशित किया गया है कि वे बिना अनुमति के मांस दुकानों का संचालन नही करें।

उल्लेखनीय है कि शहर की बेतरतीब यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए कलेक्टर जैन ने गतदिनों बैठक लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि वे यहां-वहां लगने वाले हाथ ठेलों को व्यवस्थित करें और लोगों को व्यापार के लिए एक विशेष स्थान मुहैया कराएं। साथ ही मांस दुकानों को भी चिन्हित स्थान पर ही संचालित कराने के लिए कहा गया था। कलेक्टर के इस निर्देश के बाद प्रशासनिक अमला सक्रिय हुआ और शुक्रवार को 16 से अधिक मांस दुकानों को बंद कर दिया गया। प्रशासन द्वारा की गई कार्रवाई में सर्वाधिक मुर्गे की मांस की दुकानें थीं, जिन्हे सील किया गया। इसीके साथ दुकानों के बाहर किया गया अतिक्रमण भी नपा के अमले द्वारा जेसीबी की मदद से हटाया गया। हालांकि इस कार्रवाई से मांस दुकान संचालकों में नाराजगी देखने को मिली। व्यापारियों का कहना था कि बिना किसी पूर्व सूचना के प्रशासन द्वारा इस तरह की कार्रवाई किया जाना गलत है, कार्रवाई से नोटिस दिया जाना था।