ग्रेटर कैलाश अस्पताल में बड़ी चूक, परिजनों को सौंप दिया दूसरे का शव

0
3

इंदौर। शहर से सबसे चर्चित ओर लापरवाही के मामले में नम्बर वन अस्पताल ग्रेटर कैलाश में फिर लापरवाही का मामला सामने आया है अब खंडवा के एक व्यापारी की मौत के बाद परिजनों को दूसरे का शव दे दिया। परिजन शव लेकर करीब 70 किलोमीटर दूर बड़वाह तक पहुंच गए थे। तभी दूसरा पक्ष महू से अस्पताल अपने परिजन का शव लेने अस्पताल पहुंचा तो मामले का खुलासा हुआ।

अस्पताल से बड़वाह तक पहुंच चुके व्यापारी के परिजनों को फोन लगाकर वापस बुलाया और शव बदलकर दूसरा शव दिया। इसके पहले ख्यात डॉक्टर जीएस मित्तल की भी लापरवाही से मौत के मामले में अस्पताल चर्चाओं में है वही पैसे नहीं मिलने से अस्पताल के डाक्टरों ने अस्पताल के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। ऐसे में अस्पताल के मालिक डॉक्टर अनिल बंडी की परेशानी बढ़ती जा रही है।

ग्रेटर कैलाश अस्पताल के डायरेक्टर डॉ. अनिल बंडी ने घटना पर अफसोस जताते हुए कहा कि हमसे बड़ी गलती हो गई। दोनों की बॉडी साथ रखी हुई थीं, वह गलती से बदल गईं। हमने दोनों परिजनों को वापस बुलाकर उनके परिजनों को एसडीएम की परमिशन से बॉडी एक्सचेंज कर दिया है। जहां पर सिस्टम फेल हुआ है, वहां पर उसे ठीक करेंगे।