कितना कोणीय मुकाबला है, नामांकन जांच के बाद पता चलेगा: बघेल

0
6

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, मरवाही उप चुनाव के लिये कांग्रेस प्रत्याशी डॉ के.के. धु्रव ने आज अपना नामांकन दाखिल कर दिया। उनके साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम, मंत्री जयसिंह अग्रवाल और कोरबा सांसद ज्योत्सना महंत भी साथ में थे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि नामांकन जांच के बाद पता चलेगा कि कितना कोणीय मुकाबला है मरवाही उपचुनाव में है। निर्वाचन कार्यालय में इस दौरान जोगी परिवार भी मौजूद था।

कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. धु्रव ने दो सेट में नामांकन पत्र जमा किया। पहले सेट में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम मौजूद रहे।  वहीं दूसरा सेट जमा करने के दौरान मंत्री जयसिंह अग्रवाल और कोरबा सांसद ज्योत्सना महंत मौजूद थीं। इस दौरान निर्वाचन कार्यालय में जोगी परिवार भी मौजूद था, हालांकि सारा वातार्लाप महज औपचारिक और प्रणाम तक सीमित रहा। कार्यालय से बाहर निकलते ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिला बनाने की मांग वर्षों से लंबित पड़ी थी। खुशी है कि इसे मेरे कार्यकाल में पूरा किया जा सका है। मरवाही अब विकास की नई गाथा लिखेगा। मुख्यमंत्री बघेल ने त्रिकोणीय मुकाबले के सवाल पर कहा कि नामांकन के बाद स्क्रूटनी की प्रक्रिया होती है, यह काम निर्वाचन का है। स्क्रूटनी के बाद तय हो जाएगा कि कितने कोणीय मुकाबला होना है। उन्होंने कहा कि अभी तो निर्वाचन की प्रक्रिया जारी है और भी लोग नामांकन भर रहे हैं। इसके बाद ही पता चलेगा कि आगे क्या होना है।