दिल्ली ने चेन्नै को 44 रन से हराया, नहीं चला धोनी का जादू

0
7

दुबई, दिल्ली कैपिटल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के 2020 सत्र के 7वें मुकाबले में चेन्नै सुपर किंग्स को 44 रनों से हरा दिया। इस तरह उसने अपने लगातार दूसरे मुकाबले में जीत दर्ज करते हुए पॉइंट टेबल में टॉप पोजिशन पर कब्जा जमा लिया है। दुबई इंटरनैशनल क्रिकेट स्टेडियम में टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए दिल्ली कैपिटल्स ने मैन ऑफ द मैच पृथ्वी साव (64) की बदौलत 3 विकेट पर 175 रन बनाए। जवाब में चेन्नै की टीम शुरुआती विकेट गिरने के बाद उबर नहीं सकी और 20 ओवरों में 7 विकेट खोकर 131 रन तक पहुंच सकी। धोनी का जादू नहीं चला और वह 15 रन बनाकर आउट हुए, जबकि फाफ ने सबसे अधिक 43 रन बनाए।

बड़े स्कोर के आगे CSK की खराब शुरुआत
लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नै सुपर किंग्स की शुरुआत खराब रही। उसे पहला झटका लगा ऑस्ट्रेलियाई शेन वॉटसन के रूप में। उन्हें 14 रनों के निजी स्कोर पर अक्षर पटेल ने हेटमायर के हाथों कैच कराया। इसके बाद मुरली विजय (10) को नॉर्ट्जे ने कागिसो रबाडा के हाथों लपकवाते हुए टीम का स्कोर 34 रन पर दो विकेट कर दिया।

यहीं से हो गया खेल
धीमी शुरुआत और ओपनरों का विकेट गंवाने के बाद CSK दबाव में आ गई। उम्मीद जताई जा रही थी कि धोनी टॉप ऑर्डर में उतरेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। फाफ डु प्लेसिस तीसरे नंबर पर उतरे तो युवा ऋतुराज गायकवाड़ चौथे नंबर पर आए। गायकवाड़ से उम्मीद थी कि वह मौका भुनाएंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। वह पंत के सटीक थ्रो पर अक्षर के हाथों रन आउट हो गए। उन्होंने सिर्फ 5 रन बनाए।

फाफ और केदार के बीच 54 रनों की साझेदारी
इसके बाद फाफ डु प्लेसिस के साथ मिलकर केदार जाधव टीम को 100 रनों के करीब लेकर गए। हालांकि, दोनों ही बल्लेबाजों में बड़े शॉट लगाने की कमी दिखी और रिक्वॉयर्ड रन रेट 18 के पार पहुंच गया। तेजी से रन बनाने की जरूरत थी तो नोर्ट्जे ने 16वें ओवर की चौथी गेंद पर केदार जाधव को LBW आउट कर दिया। जाधव ने 21 गेंदों में 3 चौके की मदद से 26 रन बनाए। उनके और फाफ के बीच 54 रन की पार्टनरशिप हुई।

फिफ्टी चूके चूके फाफ और मैच फिसला हाथ से
इस दौरान एक छोर संभाले रखने वाले फाफ 18वें ओवर की दूसरी गेंद पर कागिसो रबाडा के शिकार बने। उन्होंने 35 गेंदों में 4 चौके की मदद से 64 रन बनाए। अब चेन्नै को जीत के लिए 16 गेदों में 63 रनों की जरूरत थी। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और रविंद्र जडेजा ने यहां से कुछ अच्छे शॉट्स जरूर लगाए, लेकिन वह टीम को लक्ष्य तक पहुंचाने में कामयाब नहीं हो सके। दिल्ली के लिए रबाडा ने 3, नॉर्ट्जे ने दो और अक्षर पटेल ने एक विकेट झटका।

दिल्ली की पारी का रोमांच
इससे पहले ओपनर पृथ्वी साव (64) की अगुआई में बल्लेबाजों के संयुक्त प्रयास से दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नै सुपर किंग्स के सामने 176 रनों का लक्ष्य रखा। चेन्नै ने टॉस जीतकर दिल्ली को बल्लेबाजी के लिए बुलाया। उसके गेंदबाजों ने शुरू में बल्लेबाजों को बांधे रखा लेकिन आखिरी में रन गंवाए, जिसके कारण दिल्ली 20 ओवरों में तीन विकेट खोकर 175 रन बनाने में सफल रही।

पृथ्वी साव ने जड़ी फिफ्टी, शिखर चूके
दिल्ली की सलामी जोड़ी शिखर धवन और पृथ्वी साव दोनों ने विकेट पर जमने के लिए समय लिया और फिर अपने शॉट खेले। शुरूआत में इन ने दोनों कम रनगति से रन बनाए और फिर बाद में तेजी दिखाई। दोनों ने मिलकर 94 रन जोड़े। यहां तक पृथ्वी अपना अर्धशतक पूरा कर चुके थे और धवन अर्धशतक की ओर बढ़ रहे थे। पीयूष चावला पर रिवर्स स्वीप खेलने के प्रयास में धवन पगबाधा आउट करार दे दिए गए। धवन ने 27 गेंदों में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 35 रन बनाए। दिल्ली कैपिटल्स ने निर्धारित 20 ओवर में 3 विकेट खोकर 175 रन बनाए जिसमें ओपनर पृथ्वी साव ने सर्वाधिक 64 रन का योगदान दिया। चेन्नै टीम 20 ओवर में 7 विकेट पर 131 रन बना सकी और 44 रन से मुकाबला हार गई। इस जीत के बाद उसके 2 मैचों से 4अंक हो गए और टीम पॉइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंच गई। दिल्ली टीम के पेसर कागिसो रबाडा ने अंतिम ओवर में चेन्नै के 2 विकेट झटके। उन्होंने दूसरी गेंद पर महेंद्र सिंह धोनी (15) को ऋषभ पंत के हाथों कैच कराया जबकि अंतिम गेंद पर रवींद्र जडेजा को अमित मिश्रा (12) ने लपका। धोनी ने 12 गेंदों पर 2 चौके लगाए जबकि जडेजा ने 9 गेंदों पर 1 चौका लगाया।

चेन्नै सुपर किंग्स को एक तेजतर्रार पारी की जरूरत थी, लेकिन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी एक बार फिर निचले क्रम पर बल्लेबाजी को उतरे। वह नंबर-6 पर बल्लेबाजी को आए, जब 16वें ओवर में केदार जाधव का विकेट गिरा। चेन्नै को अंतिम 4 ओवर में 75 रन की जरूरत थी और ऐसे में धोनी से सभी को उम्मीदें थीं लेकिन वह अंतिम ओवर में कैच आउट हो गए। चेन्नै के शुरुआती 3 विकेट 44 रन के स्कोर तक गिर गए। ओपनर शेन वॉटसन 14 रन बनाकर अक्षर पटेल का शिकार बने और टीम का पहला विकेट 23 के स्कोर पर गिरा। वॉटसन ने 16 गेंदों पर 1 चौके और 1 छक्के की मदद से 14 रन बनाए। इसके बाद मुरली विजय (10) को नोर्त्जे ने शिकार बनाया जबकि ऋतुराज गायकवाड़ (5) रन आउट हुए। चेन्नै सुपर किंग्स की आधी टीम 17.2 ओवर में 113 रन तक पविलियन लौट गई, जब फाफ डु प्लेसिस (43) को कागिसो रबाडा की गेंद पर विकेट के पीछे ऋषभ पंत ने लपका। डु प्लेसिस ने 35 गेंदों की अपनी पारी में 4 चौके लगाए। चेन्नै सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने IPL-2020 में एक बार फिर टॉस जीता और पहले फील्डिंग का ही फैसला किया। उन्होंने इससे पहले मुंबई इंडियंस और राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ भी टॉस जीते थे और पहले फील्डिंग का ही फैसला किया था। फाफ डु प्लेसिस और केदार जाधव ने चौथे विकेट के लिए 54 रन जोड़े। केदार जाधव 5वें नंबर पर बल्लेबाजी को उतरे और वह टीम के 98 के स्कोर पर नोर्त्जे का शिकार बने। दिल्ली के ओपनर पृथ्वी साव ने टीम के लिए सर्वाधिक 64 रन बनाए। उन्होंने 43 गेंदों की अपनी पारी में 9 चौके और 1 छक्का लगाया। इस युवा बल्लेबाज ने 35 गेंदों पर अपनी फिफ्टी पूरी की। दिल्ली को पृथ्वी साव और शिखर धवन ने अच्छी शुरुआत दी और दोनों ने मिलकर 94 रन जोड़े। धवन पारी के 11वें ओवर की चौथी गेंद पर आउट हुए और पीयूष चावला ने ब्रेकथ्रू दिलाया। धवन ने 27 गेंदों पर 3 चौकों और 1 छक्के की मदद से 35 रन बनाए। श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत ने तीसरे विकेट के लिए 58 रन की अर्धशतकीय साझेदारी की। अय्यर पारी के 19वें ओवर की तीसरी गेंद पर धोनी के हाथों लपके गए। उन्होंने 22 गेंदों की अपनी पारी में 1 चौके की मदद से 26 रन बनाए।

पीयूष ने किए दो शिकार
पृथ्वी साव भी चावला के शिकार बने। साव को धोनी ने स्टम्प किया। साव ने 43 गेंदों पर नौ चौके और एक छक्के की मदद से 64 रन बनाए। इसके बाद ऋषभ पंत और कप्तान श्रेयस अय्यर ने तीसरे विकेट के लिए 58 रन जोड़े और यह सुनिश्चित किया कि टीम मजबूत स्कोर क पहुंच सके। अय्यर 22 गेंदों पर 26 रन बनाकर सैम करन का शिकार बने। पंत 27 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 37 रन बनाने में सफल रहे। उनके साथ मार्कस स्टोइनिस पांच रन बनाकर नाबाद रहे। चेन्नै के लिए चावला ने दो और करन ने एक विकेट लिया।