छत्तीसगढ़ के हितों की अनदेखी कर रहे भाजपा सांसद: सुशील आनंद शुक्ला

0
3

छत्तीसगढ़ ने एक दिन में 24 लाख मजदूरो को काम देने का रिकार्ड बनाया

भाजपा सांसदों ने दिल्ली में जब भी कुछ कहा राज्य के हितों के खिलाफ कहा -कांग्रेस

भाजपाई सांसद कांग्रेस सरकार का विरोध करते करते राज्य की जनता का विरोध करते है

रायपुर, कांग्रेस ने भाजपा के सांसदों को राज्य के हितों की अनदेखी का आरोप लगाया है। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि छत्तीसगढ़ से लोक सभा के लिए चुने गए नौ सांसदों ने जब भी दिल्ली में आवाज उठाया तो राज्य की जनता के हितों के खिलाफ ही आवाज उठाया है।जब 2500 में समर्थन मूल्य खरीदी के विषय पर राज्य सरकार और केंद्र सरकार के बीच टकराव हुआ था तब भी इन सांसदों ने राज्य के किसानों का साथ नही दिया था ।लोकसभा में 2500रु समर्थन मूल्य के खिलाफ ही बोला था ।अब भी जब ये सांसद केंद्रीय मंत्रियों से मिलने गए तब भी इन्होंने राज्य के हित में बात करने के बजाय राज्य सरकार के द्वारा किये जा रहे कामो की आलोचना ही किया । केंद्रीय मंत्रियों से कहने को और राज्य की जनता के सहूलियतों के लिये मांगने को इनके पास बहुत कुछ था लेकिन दुर्भाग्य से भाजपाई सांसद एक बार फिर से राज्य की कांग्रेस सरकार का विरोध करने के बहाने प्रदेश की जनता का विरोध कर आये।

कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि इन सांसदों ने केंद्रीय मंत्री से यह तो बताया कि किसान सम्मान निधि से राज्य के 25 लाख किसान वंचित हो गए लेकिन यह कहना जरूरी नही समझा कि जिन आंकड़ो के आधार पर कथित रूप से केंद्र सरकार ने पहली बार 27 लाख किसानों को किसान सम्मान निधि का पैसा दिया था कोरोना काल मे उन्ही पुराने आंकड़ो के आधार पर इस बार भी किसानों को रुपये दिए जाय।
भाजपाई सांसदों ने केंद्रीय मंत्री से यह शिकायत तो कर दिया कि राज्य सरकार ने 14वे वित्त की राशि पंचायतों के मूलभूत से उठा के क्वारेंटिंन सेंटरों में कर दिया है लेकिन यह माग नही किया कि कोरोना काल मे 14 वे वित्त की राशि क्वारेंटिंन सेंटरों में खर्च हो गयी अतः राज्य की जनता के हित में इस खर्च राशि का पुनः आबंटन करें।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपाई सांसदों को मनरेगा के मामले में राज्य सरकार की जूठी शिकायत करने से पहले केन्दीय मंत्री से यह पूछना था कि देश मे छत्तीसगढ़ सरकार को मनरेगा में बेहतर क्रियान्वन की रैंकिंग क्यो दी गयी ?
कोरोना काल मे केंद्र सरकार के द्वारा जारी आंकड़े बताते है कि मनरेगा में छत्तीसगढ़ ने देश मे सबसे अच्छा काम किया ।एक दिन में 24 लाख मजदूरो को काम देने का रिकार्ड बनाया।
भाजपाई सांसद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से भी मिले लेकिन उनसे भी राज्य को कोरोना से लड़ाई के लिए अतिरिक्त संसाधन देने की मांग नही किया ।
कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपाई सांसद एक बार देश के वित्त मन्त्री से भी मिल लेते तो अच्छा होता ।वित्त मंत्री से मिल कर छत्तीसगढ़ के राज्य का बकाया जीएसटी के 2828 करोड़ और दीगर मद के 6000 करोड़ रु दिलवा देते ताकि प्रदेश का कुछ भला हो।भाजपाई सांसद एक बार प्रधानमंत्री मोदी से भी मिल कर राज्य को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अभियान कार्यक्रम में शामिल करने की मांग कर आते।