सुशांत सिंह केस: आज रिया चक्रवर्ती की न्यायिक हिरासत का आखिरी दिन, 14 दिनों से जेल में हैं बंद

0
3

मुंबई
सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती के 14 दिनों की न्यायिक हिरासत का आज आखिरी दिन है। एनसीबी की गिरफ्तारी के बाद रिया चक्रवर्ती को 22 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। वह मुंबई की भायखला जेल में बंद हैं। बता दें कि रिया चक्रवर्ती की जमानत याचिका दो बार कोर्ट से ठुकरा दी जा चुकी है।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद ड्रग्स कनेक्श की जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने रिया चक्रवर्ती को 8 सितंबर को मुंबई से कई दौर की पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। अगर रिया चक्रवर्ती इस मामले में दोषी पाई जाती हैं तो उन्हें करीब 10 साल तक की सजा हो सकती है। बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को अपने बांद्रा स्थित घर में मृत पाए गए थे।

28 वर्षीय रिया चक्रवर्ती को सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े ड्रग्स मामले गिरफ्तार किए गए अन्य आरोपियों के बयानों के आधार पर गिरफ्तार किया गया था। एनसीबी ने इस मामले में सभी आरोपियों से कड़ी पूछताछ की थी और कथित ड्रग रैकेट में इन सबकी भूमिका का पता लगाने के लिए एनसीबी ने रिया चक्रवर्ती का सामना सुशांत सिंह राजपूत के घर के मैनेजर सैमुअल मिरांडा, उसके घर के कर्मचारी दीपेश सावंत और शौविक चक्रवर्ती के साथ कराया था। 

11 सितंबर को एक विशेष अदालत ने रिया चक्रवर्ती को जमानत देने से इनकार करते हुए कहा था कि अगर उन्हें जमानत पर रिहा किया गया तो वह दूसरों को सतर्क कर सकती हैं और वे सबूत नष्ट कर सकते हैं। रिया चक्रवर्ती ने अपनी याचिका में कहा था कि वह निर्दोष हैं और उसे झूढा फंसाया गया है। बता दें कि रिया को नारकोटिक्स ड्रग्स एंड साइकोट्रॉपिक सब्सटेंस (एनडीपीएस) अधिनियम, 1985 के कई धाराओं के तहत बुक किया गया है।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए एनसीबी ड्रग्स एंगल से जांच कर रही है। एनसीबी को पूछताछ में कई अहम सुराग मिले हैं। यही वजह है कि एनसीबी ने अब तक 17 से अधिक गिरफ्तारियां की है। रिया चक्रवर्ती ने पूछताछ में ड्रग्स के खेल में शामिल 15 बॉलीवुड सेलेब्स के नाम भी बताए हैं। साथ ही उन्होंने यह भी बताया है कि ड्रग्स की खरीद और आपूर्ति के लिए एक बड़ा रैकेट है। 

एनसीबी ने अब तक रिया चक्रवर्ती के अलावा, उसके भाई शौविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा समेत मुंबई और गोवा से कई ड्रग पेडलर्स को गिरफ्तार किया है। बता दें कि एनसीबी के अलावा, इस मामले की जांच सीबीआई और ईडी कर रही है।