सब्जी और राशन लेने सुबह से ही बाजारों में भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग की भी अनदेखी खूब हुई

0
1

रायपुर
राजधानी रायपुर में सोमवार की रात 9 बजे से 28 की रात 12 बजे तक सख्त लॉकडाउन के निर्देश कल कलेक्टर ने जारी किए और जरुरत का सामान खरीदने के लिए एक महीने के बाद रविवार को बाजार खोलने की अनुमति दी। लोग सुबह से सब्जी और किराना की दुकान को राशन लेने टूट पड़े, इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की भी खूब अनदेखी हुई। इसी प्रकार पेट्रोल पंपों का भी नजारा यही रहा जहां लोग करीब 15 से 20 मिनट तक बारी का इंतजार करने के बाद गाडि?ों में पेट्रोल ले रहे थे।

रायपुर शहर में सोमवार की रात्रि 9 बजे से 7 दिन के लिए सब कुछ बंद हो जाएगा। इस बात से परेशान लोग रविवार को सुबह से ही बाजारों में जरूरत का सामान खरीदते नजर आए। शहर के शास्त्री बाजार, गोल बाजार और बंजारी रोड में सुबह से ही हर थोड़ी देर में ट्रैफिक जाम होता रहा। बड़ी तादाद में लोगों के बाजार पहुंचने से यह स्थिति निर्मित हुई है। चूंकि 7 दिनों तक सब्जियां भी नहीं मिलेंगी, इसलिए लोग सब्जी खरीदते दिखे। चिकन, मटन मार्केट में भी लोगों की भीड़ नजर आई।

वहीं रायपुर के मोती नगर, टिकरापारा, जयस्तंभ चौक, पचपेड़ी नाका जैसे इलाकों में पेट्रोल पंप पर भारी भीड़ नजर आई। कलेक्टर के नए आदेश के मुताबिक  21 की रात 9 बजे से 28 सितंबर को रात 12 बजे तक केवल दूध, दवा, गैस और केवल सरकारी गाडि?ों को ही पेट्रोल-डीजल मिलेगा ऐसे में इमरजेंसी में जरूरत को देखते हुए लोग गाडि?ों में एक्सट्रा पेट्रोल भरवाते दिखे। यहां पर उन्हें 15 से 20 मिनट इंतजार करने के बाद पेट्रोल मिल रहे थे। भीड़ की वजह से लोग सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी करते हुए नजर आए क्योंकि उन्हें 7 दिनों के लिए सामान जो खरीदना था। लॉकडाउन के दौरान किसी इमरजेंसी में मदद के लिए 0771-2445785 और 0771-4320202 पर संपर्क किया जा सकता है।