वोडाफोन आइडिया पैसों की भारी किल्लत से जूझ रही

0
21

नई दिल्ली
वोडाफोन ग्रुप और आदित्य बिरला ग्रुप के ज्वाइंट वेंचर वोडाफोन आइडिया ने टेलिकॉम टावर कंपनियों को जून महीने का रेंटल और एनर्जी का भुगतान करने में डिफॉल्ट किया है। टेलिकॉम टावर फर्म के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इस डिफॉल्ट की वजह एडस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू का सरकार को किया गया भुगतान है। उसकी वजह से पैसों की दिक्कत हो गई, जिसके चलते कंपनी रेंट और एनर्जी का बिल नहीं दे पाई।

उन्होंने कहा- 'सामान्य तौर पर कंपनी हर महीने की तीसरी तारीख को भुगतान कर देती है, लेकिन इस महीने हमें एक भी पैसा नहीं मिला है। वोडाफोन आइडिया का सारी टेलिकॉम कंपनियों पर कुछ सौ करोड़ रुपये का बिल बकाया है। इससे एक चेन रिएक्शन होगा, क्योंकि हमें अपने सप्लायर्स को भी भुगतान करना होता है, जिसमें तेल कंपनियां भी शामिल हैं।'

वोडाफोन आइडिया इस समय पैसों की भारी किल्लत से जूझ रही है। जब से कंपनी को सुप्रीम कोर्ट की तरफ से 54 हजार करोड़ रुपये के एजीआर का भुगतान करने का आदेश दिया गया है। मार्च 2020 को खत्म हुए वित्त वर्ष में वोडाफोन ग्रुप ने 73,131 करोड़ रुपये का नुकसान दिखाया था। इस दौरान कंपनी को 44,715 करोड़ रुपये की आय हुई थी।