राहुल गांधी ने कोविड-19 से निपटने के तरीके को लेकर केंद्र सरकार की आलोचना की

0
3

नई दिल्ली
भारत में कोरोना वायरस के कुल मामले 70 लाख के पार चले जाने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कोविड-19 संकट से निपटने के तरीके को लेकर रविवार को केंद्र सरकार की आलोचना की। उन्होंने कहा कि यह एक केस स्टडी है कि महामारी के खिलाफ कैसे प्रतिक्रिया नहीं की जाए। राहुल ने भारत में इस महामारी के सफर पर ट्विटर पर बीबीसी का एक वीडियो टैग किया है, जिसमें लॉकडाउन की घोषणा के बाद प्रवासी श्रमिकों द्वारा सामना की गई समस्याओं, कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों और लोगों की मौत को दिखाया गया है। राहुल ने वीडियो के साथ ट्वीट किया, ''महामारी के खिलाफ कैसे नहीं प्रतिक्रिया की जाए, इसपर एक केस स्टडी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा रविवार को अद्यतन किये गए आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोविड-19 के कुल मामले 70 लाख को पार गये गये हैं।'' देश में वायरस संक्रमण से उबरने की दर 86.17 प्रतिशत है।

मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 74,383 नये मामले सामने आने के साथ कोविड-19 के कुल संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 70,53,806 हो गयी है। वहीं, 918 और संक्रमित मरीजों की पिछले 24 घंटे में मौत हो जाने से कुल मृतक संख्या बढ़ कर 1,08,334 पहुंच गई है। भारत में कोविड-19 के मामले 21 दिनों में 10 लाख से 20 लाख के आंकड़े पर पहुंचे थे। इसके बाद इसे 30 लाख की संख्या को पार करने में और 16 दिनों का वक्त लगा। फिर, 13 दिनों में यह 40 लाख के आंकड़े को पार कर गया और इसके बाद 11 दिनों में 50 लाख के पार पहुंच गया। इसके बाद, संक्रमण के मामले 12 दिन में 50 लाख से बढ़ कर 60 लाख हो गये थे। इसके बाद कोविड-19 के मामलों को 60 लाख से 70 लाख के पार जाने में 13 दिन का वक्त लगा। देश में कोविड-19 के मामलों के एक लाख की संख्या तक पहुंचने में 110 दिन लगे थे, जबकि इसे 10 लाख के आंकड़े को पार करने में और 59 दिन लगे थे।