मुख्तार अंसारी गैंग के खिलाफ कार्रवाई , शस्त्र लाइसेंस कैंसल

0
15

गाजीपुर
बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबियों पर अब पुलिसिया गाज गिरने लगी है। मुख्तार अंसारी के तीन सहयोगियों और रिश्तेदारों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं। यह कार्रवाई जिला प्रशासन के आदेश पर की गई है। इसे यूपी पुलिस और प्रशासन के ऑपरेशन क्लीन का हिस्सा माना जा रहा है। कानपुर में गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर के बाद प्रदेश भर के माफिया और बाहुबलियों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई जारी है।

गाजीपुर की मऊ सदर विधानसभा सीट से विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ भी कार्रवाई जारी है। जेल में बंद मुख्तार अंसारी और उनके गैंग के कुछ लोगों ने लोगों की जमीन पर कब्जा कर रखा है, इन जमीनों को खाली करवाने का अभियान भी तेज हो गया है। मुख्तार अंसारी के जिन सहयोगियों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित हुए हैं, उनके हथियार थाने में जमा करा लिए गए हैं।

मुख्तार अंसारी के रिश्तेदार मोहम्मद सालिम, नूरुद्दीन आरिफ और मसूद आलम के शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं। ये लोग मुख्तार अंसारी गैंग के ऐक्टिव मेंबर भी बताए जा रहे हैं। आपको यह भी बता दें कि मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी गाजीपुर लोकसभा सीट से बीएसपी के सांसद हैं। पिछले एक साल में मुख्तार अंसारी की लगभग 50 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की गई है।