तमिलनाडु: कोरोना से एक दिन में सबसे अधिक 109 लोगों की मौत, स्वस्थ मरीजों की संख्या दो लाख के पार

0
3

चेन्नई 
तमिलनाडु में सोमवार (3 अगस्त) को कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी से संक्रमित 5609 नए मामलों की पुष्टि के साथ मरीजों की संख्या बढ़ कर 2,63,222 तक पहुंच गई और राज्य में इस महामारी के संक्रमण से रिकॉर्ड 109 और मरीजों की मौत से मृतकों की संख्या 4241 हो गई। राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की संख्या पहली बार 100 के पार हुई है। कोरोना का प्रकोप मार्च में शुरू हुआ था। स्वास्थ्य विभाग ने अपने बुलेटिन में बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से एक दिन में 109 लोगों की मौत हो गई है, जिनमें से सरकारी अस्पतालों से 86 और निजी अस्पतालों से 23 लोगों की मौत हुई है। पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित 5609 नए मामले पाए गए हैं जिनमें से 5577 मामले स्थानीय हैं और 32 मामले प्रवासियों से जुड़े हैं… जो सड़क मार्ग, विमान से अन्य प्रदेशों से राज्य में लौटे हैं। राज्य में कोरोना के 56,698 सक्रिय मामले हैं।

पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 58,211 नमूनों को परीक्षण किया गया इसके साथ ही 3 अगस्त तक कोरोना परीक्षण नमूनों की संख्या 28,37,273 तक पहुंच गई है। राज्य में कोरोना संक्रमण से अभी तक निजात पाने वाले लोगों की संख्या दो लाख के पार पहुंच गई है। सोमवार को कोरोना संक्रमण से 5800 लोग स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। इसके साथ ही इस वायरस से ठीक होने वालों की कुल संख्या 2,02,283 हो गई है। तमिलनाडु, ठीक हुए मरीजों की संख्या के लिहाज से महाराष्ट्र के बाद दो लाख का आंकड़ा पार करने वाला दूसरा राज्य है। महाराष्ट्र के कुल मामले इससे बहुत ज्यादा है। वहां संक्रमण के कुल 4,41,228 मामले हैं। दूसरी ओर, राजधानी चेन्नई कोरोना वायरस से सबसे गंभीर रूप से प्रभावित है और यहां फिर से लॉकडाउन लगाने की प्रमुख वजह संक्रमण की बढ़ती दर है। चेन्नई में पिछले 24 घंटों के दौरान 1021 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या एक लाख के पार पहुंच गई है। यहां संक्रमितों की कुल संख्या 1,02,985 हो गई है। उल्लेखनीय है कि तमिलनाडु सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के मामलों में वृद्धि को देखते हुए चेन्नई तथा इसके आस-पास के जिलों में कुछ रियायतों और प्रतिबंधों के साथ लॉकडाउन की अवधि 31 अगस्त तक बढ़ा दी है।