चालू वित्त वर्ष में मनरेगा कार्यों पर खर्च होगा 1000 करोड़ रुपए: डिप्टी सीएम का ऐलान

0
21

चंडीगढ़
हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने राज्य में तालाबों की रिटेनिंग-वॉल, गऊघाट, बड़े स्कूलों में विद्यार्थियों के लिए प्रार्थना मैदान, पीटी ग्राउंड बनाने, अनाज मंडियों में सब-यार्ड की मरम्मत व रखरखाव के अलावा गांवों के कनेक्टिंग रास्तों की मरम्मत करवाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को कहा है कि वो मनरेगा के तहत इन कार्यों को संपन्न कराएं। 

दुष्यंत चौटाला ने गुरुवार को 'हरियाणा राज्य रोजगार गांरटी परिषद' की छठी बैठक की अध्यक्षता की और मनरेगा के तहत किए जाने वाले कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान डिप्टी सीएम ने कहा कि 20 जनवरी तक 722.39 करोड़ रुपये मनरेगा योजना के तहत खर्च किए जा चुके हैं। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि मनरेगा योजना के तहत चालू वित्त वर्ष में उपलब्धि भरा कार्य करने पर लेबर-बजट पहले 100 लाख कार्य-दिवस से बढ़ाकर 140 लाख कार्य-दिवस किया गया और फिर पांच जनवरी को संशोधित करके 146 लाख कार्य-दिवस किया गया है।

 दुष्यंत चौटाला ने की इन विभागों के कार्यों की समीक्षा अधिकारियों ने बताया कि ग्राम-पंचायत के भवन, सूखा व बाढ़ नियंत्रण एवं बचाव के कार्य, जमीन सुधार, सुक्ष्म सिंचाई, खेल का मैदान, पारंपरिक जल निकायों की मरम्मत, ग्रामीण संपर्क व पेयजल, जल संरक्षण के कार्यों समेत गरीब लोगों के पशुओं के लिए शेड आदि के विभिन्न कार्य किए गए। दुष्यंत चौटाला ने सिंचाई विभाग, जन स्वास्थ्य, शिक्षा, लोक निर्माण (भवन एवं सड़कें), मार्केटिंग बोर्ड, महिला एवं बाल विकास विभाग, वन, पशुपालन, कृषि एवं बागवानी समेत कई अन्य विभागों द्वारा मनरेगा के तहत किए गए खर्च की समीक्षा करते हुए सभी अधिकारियों को अपने विभागों में और अधिक कार्य करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने उक्त योजना के तहत पंचायतों के सोशल-ऑडिट की भी समीक्षा की।