गोंडा: नाबालिग बहनों पर एसिड अटैक करने वाले आरोपी की पुलिस से मुठभेड़, घायल होने के बाद गिरफ्तार

0
1

गोंडा
यूपी के गोंडा जिले में तीन बहनों पर एसिड अटैक (Gonda Acid Attack) करने वाले आरोपी से पुलिस की मुठभेड़ हुई है। गोंडा जिले में आरोपी को पकड़ने गई पुलिस टीम ने एनकाउंटर के बाद गंभीर रूप से घायल आरोपी को अस्पताल में भर्ती कराया है। आरोपी अभियुक्त आशीष कुमार उर्फ छोटू को पुलिस और एसओजी टीम ने करनैलगंज हुजूरपुर मार्ग स्थित वैकुंठ नाथ महाविद्यालय के पास मुठभेड़ के दौरान मंगलवार की रात को गिरफ्तार कर लिया। मुड़भेड़ के दौरान अभियुक्त के दाहिने पैर में गोली लगी है। मौके से एक देसी तमंचा व कारतूस भी बरामद किया गया है। अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार सिंह ने बताया की पीड़िताओं के बयान में अभियुक्त आशीष कुमार उस छोटू का नाम प्रकाश में आया था।

मुखबिरों की सूचना के बाद कार्रवाई
मुखबिरों से सूचना मिली कि अभियुक्त अपनी बहन के घर से वापस गोंडा आ रहा था। पुलिस घेराबंदी के दौरान उसे करनैलगंज-हुजूरपुर मार्ग पर देवापसिया मोड़ के पास रोकने की कोशिश की गई। इस दौरान उसकी बाइक फिसल गई और उसने पुलिस पर फायर करना शुरू कर दिया। जबाबी फायरिंग में गोली उसके दाहिने पैर पर लगी। घटना के बाद गंभीर रूप से घायल आरोपी को करनैलगंज के अस्पताल में भर्ती किया गया है। इसके अलावा जिले के तमाम पुलिस अधिकारी मौके पर भेजे गए हैं।

हमले में बड़ी बहन 35 फीसदी झुलसी
इलाके के लोगों की मानें तो बड़ी बहन हाईस्कूल पास है, उसकी शादी भी कहीं तय है। जिला अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि एसिड अटैक में बड़ी बेटी 35 फीसदी झुलस चुकी है। दूसरी बेटी 25 और तीसरी बेटी पांच फीसदी है। पीड़िता के पिता का कहना है कि घटना के बाद उन्हें लगा कि शायद सिलिंडर की आग में बेटियां झुलस गई हैं। लेकिन बाद में पता चला कि किसी अज्ञात शख्स ने तेजाब से हमला किया है।

सभी लड़कियां नाबालिग
पिता का कहना है, 'जब तेजाब पड़ा तो बेटी चिल्लाई। आवाज सुनकर मैंने दरवाजा खोला। बेटी को गोद में लिया और पूछा कि क्या सिलिंडर से आग लग गई है तो उसने कहा नहीं। घटना के वक्त मैं सो रहा था। एक बेटी 17 साल की है, एक 12 और एक 8 साल की है।'