कटहल का सेवन बहुत अधिक लाभकारी

0
22

कटहल का उपयोग फल के रूप में भी किया जाता है और सब्जी के रूप में भी। इसमें ऐसी कई खूबियां होती हैं जो इसे गर्मी के मौसम का गुणकारी फल और सब्जी है। खासतौर पर अगर अब Coronavirus के समय की बात करें तो कटहल का सेवन बहुत अधिक लाभकारी है। यह किन खूबियों से भरपूर होता है, आइए जानते हैं…

इन विटमिन से भरपूर होता है जैकफ्रूट

-कटहल में विटमिन-ए, विटमिन-बी6 और विटमिन-सी बहुत अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं।

-विटमिन-ए हमारी आंखों के लिए, विटमिन-बी6 ब्रेन हेल्थ के लिए और विटमिन-सी इम्यून सेल्स के बूस्ट करने के लिए बहुत उपयोगी होते हैं।

मिनरल्स का खजाना है कटहल
-कटहल चाहे तो आप सब्जी के रूप में खाएं या फिर इसे पकाकर फल के रूप में इसका सेवन करें। इससे आपको कैल्शियम, आयरन, पोटैशियम, मैग्निशियम, फोलिक एसिड, थायामिन और नियासि जैसे मिनरल्स और पोषक तत्व मिलते हैं।

-अब सोचिए जरा…कितना कुछ समेटे हुए है कटहल अपने मोटे और सख्त छिलके के नीचे! ये सभी तत्व हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करते हैं। वैसे भी कोरोना काल में हर किसी को मजबूत इम्युनिटी की जरूरत है। ऐसे में कटहल की स्वादिष्ट सब्जी हम सभी की इस जरूरत को पूरा कर सकती है।

कब्ज दूर करने में फायदेमंद
-कटहल में फायबर भरपूर मात्रा में उपलब्ध होते हैं। यही कारण है कि जिन लोगों को कब्ज की समस्या रहती है या जिनका पाचन ठीक तरीके से नहीं हो पाता है, उन्हें कटहल की सब्जी का सेवन जरूर करना चाहिए।

-कटहल की सब्जी पाचन के बेहतर बनाकर गैस की समस्या, सख्त मोशन की समस्या और मोशन के दौरान प्रेशर लगाने जैसी सभी समस्याओं में लाभकारी है।

संक्रमण से बचाने में लाभकारी
-कटहल का फल और सब्जी दोनों ही हमारे शरीर को फ्लू, वायरल और फीवर से बचाने का काम करते हैं। क्योंकि इसमें मौजूद विटमिन-सी एक ऐंटिऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। जो वायरल, वायरस और बैक्टीरिया को मारनेवाली श्वेत रक्त कोशिकाएं बनाने में सहायता करता है।

-डेंगू, मलेरिया, फ्लू और सबसे खतरनाक कोरोना से बचने के लिए यदि संभव हो सके तो आप अपने दैनिक आहार में कटहल के फल और सब्जी को शामिल करें। यह आपके शरीर को मजबूत बनाने का काम करेगा।

स्किन के लिए फायदेमंद है कटहल
-विटमिन-सी हमारे शरीर में कोलेजन के उत्पादन में सहायता करता है। यह कोलेजन हमारी स्किन को युवा बनाए रखने के लिए जरूरी होता है। साथ ही विटमिन-ए हमारी आंखों की आर्टरी को संकुचन से रोकता है। इससे हमारी आंखों की रोशनी बुढ़ापे में भी सही बनी रहती है।

क्यों है कटहल वेज-मीट?
-आपके मन में यह सवाल जरूर उठ रहा होगा कि आखिर हमने यहां कटहल को वेजमीट क्यों कहा? ऐसा इसलिए क्योंकि कटहल हमारे शरीर को वे गुण तो देता ही है, जो किसी फल और सब्जी से हमें प्राप्त होते हैं। साथ ही कटहल उन गुणों से भी भरपूर होता है, जो हमें आमतौर पर डेयरी प्रॉडक्ट्स या मीट से मिलते हैं!

-जैसे, कटहल में कैल्शियम भी होता है। जिसकी प्राप्ति के लिए हम मुख्य रूप से डेयरी प्रॉडक्ट्स और नॉनवेज पर निर्भर रहते हैं। साथ ही इससे मिलनेवाला अमीनो एसिड हमारे दिल की सेहत को बनाए रखने में सहायता करता है।

कटहल का स्वाद और मिजाज
– पोटैशियम, हमारे शरीर के अंदर सोडियम की मात्रा को निंयत्रि करने का काम करता है। सबसे बड़ी बात यह है कि कटहल की सब्जी बनने के बाद देखने में कुछ-कुछ नॉनवेज जैसी दिखती है और इसके बड़े-बड़े पीसेज को खाने का तरीका भी कुछ-कुछ वैसा ही होता है।

एनर्जी लेवल बढ़ाता है
-जो लोग बहुत जल्दी थक जाते हैं, जिन्हें सांस फूलने की समस्या है या जो लोग हर समय खुद को थका हुआ अनुभव करते हैं। वे लोग कुछ दिन नियमित रूप से एक समय कटहल के फल और एक समय कटहल की सब्जी का उपयोग करें तो कुछ ही दिन में उन्हें बहुत लाभ देखने को मिलेगा।