इसी महीने के अंत में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर फर्राटा भर सकेंगे वाहन

0
3

 लखनऊ  
उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर इस महीने के अंत तक वाहन फर्राटा भरते नजर आएंगे। इस महीने के अंत तक एक्सप्रेस-वे के मुख्य कैरिज-वे का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। जिसके बाद एक्सप्रेस-वे को यातायात के लिए खोल दिया जाएगा।

यह जानकारी मंगलवार को प्रोजेक्ट मानीटरिंग ग्रुप की बैठक के दौरान अधिकारियों ने मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी को दी। अधिकारियों ने बताया कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे परियोजना के सभी कार्य पूर्णता की ओर हैं। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे का निर्माण भी तेजी से चल रहा है। माइल स्टोन एक के पैकेज वन के लक्ष्य 10 प्रतिशत के सापेक्ष 16.13 प्रतिशत तथा पैकेज दो के लक्ष्य 8.60 प्रतिशत के सापेक्ष 16.37 प्रतिशत भौतिक प्रगति हासिल कर ली गई है। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे परियोजना का निर्माण कार्य निर्धारित समय सारिणी से भी तेज प्रगति से चल रहा है। 

बताया गया कि बुन्देलखंड एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य तेज गति से चल रहा है तथा कार्य की भौतिक प्रगति करीब 51 प्रतिशत है। मुख्य कैरिज-वे की एक साइड 28 फरवरी 2022 तक यातायात के लिए खोल दिया जाएगा। एक्सप्रेस-वे की दोनों साइड के चालू होने की संभावित तिथि 30 अप्रैल 2022 है। परियोजना के समस्त कार्य 30 सितम्बर 2022 तक पूरे हो जाएंगे।  इस बैठक में बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे, गंगा एक्सप्रेस-वे, डिफेन्स कारीडोर तथा जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के निर्माण की अब तक की प्रगति की समीक्षा की गई।