थायरॉयड, किडनी, तिल्ली और मोटापा,कब्ज दूर करने के लिए करें हलासन

0
2

कैसे करें
फर्श पर पीठ के बल लेटें और अपनी हथेलियों को अपने शरीर के पास रखें. अपने पेट की मांसपेशियों का उपयोग करते हुए, अपने पैरों को 90 डिग्री की ऊँचाई पर उठाएं, फर्श पर अपनी हथेलियों को मजबूती से रखें और अपने पैरों को अपने सिर के पीछे तक लाएं. अपनी पीठ के निचले हिस्से को ऊपर उठाएं. अपने पैर की उंगलियों से फर्श को छूने की कोशिश करें. अपनी छाती को अपनी ठोड़ी के करीब लाने के लिए जितना संभव हो सके प्रयास करें. हथेलियां फर्श पर सपाट रखें, लेकिन व्यक्ति अपनी कोहनी को मोड़ सकता है. अपनी सहूलियत के अनुसार हथेलियों से पीठ को सहारा दे सकते हैं. पैरों को उठाते समय सांस लें और अंतिम स्थिति संभालने के बाद धीरे-धीरे सांस छोडें.

हलासन के लाभ
कब्ज और पेट के विकारों को दूर कर सकता है.
शरीर के वसा को कम करने में मदद मिल सकती है.
थायरॉयड, किडनी, तिल्ली और अग्न्याशय को बेहतर बनाने में फायदेमंद हो सकता है.
यह हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में भी सहायक हो सकता है.
मासिक धर्म के विकारों से पीड़ित महिलाओं के लिए भी फायदेमंद हो सकता है.
स्मरण शक्ति में सुधार कर सकता है.
स्किन के लिए लाभदायक हो सकता है हलासन.