अब लापता हुए पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति, ढूंढ रही क्षेत्र की जनता

0
393

काफी दिनों से एनपी प्रजापति नरसिंहपुर जिले में नजर नहीं आए

नरसिंहपुर, चिट्ठी ना कोई संदेश,जाने वो कौन सा देश जहां तुम चले गए…. ये भले जगजीत सिंह की ग़ज़ल की पंक्तियां हैं पर इन दिनों नरसिंहपुर के गोटेगांव में जम कर छाई हुई हैं। दरअसल यहां के विधायक और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति वैश्विक बीमारी के दौर में इन दिनों क्षेत्र से गायब हैं। उनके नाम से इस तरह की पंक्ति लिखी पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

गुमशुदा की तलाश लापता है मध्य प्रदेश के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद यानी एनपी प्रजापति, जी हां ये हम नहीं कह रहे बल्कि ये वो पोस्टर कह रहा है जो इन दिनों एनपी प्रजापति के विधानसभा क्षेत्र गोटेगांव के व्हाट्सएप ग्रुप में ग्रुप में चर्चित हो रहा है। दरअसल सरकार गिरने के बाद नर्मदा प्रसाद प्रजापति जब क्षेत्र में नजर नहीं आए तो लोगों ने इस तरह के पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए।

हालात ये हैं कि देश कठिन दौर से गुजर रहा है और जनता जनप्रतिनिधियों को खोज रही है । लॉक डाउन के बाद से एनपी प्रजापति अपने क्षेत्र से नरसिंहपुर जिले में तक नजर नहीं आए । हालात यह रहे कि जिला आपदा प्रबंधन की बैठक में भी प्रजापति नजर नहीं आए । अब इसे लेकर भला भाजपा क्यों चुप रहती । नरसिंहपुर विधायक और पूर्व राज्य मंत्री जालम सिंह पटेल, एनपी प्रजापति को आड़े हाथों लेते हुए कांग्रेस पर निशाना साध रहे हैं। उन्होंने राहुल गांधी से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और कमलनाथ पर भी अपने तरकश के तीर बरसा दिए। वही राज्यसभा सांसद कैलाश सोनी ने भी कोई कमी नहीं छोड़ी। उन्होंने विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष एनपी प्रजापति को गोटेगांव का एक्सीडेंट जनप्रतिनिधि बता दिया।

कोरोना के संक्रमण काल में जनप्रतिनिधियों का अपने क्षेत्र से गायब होना कहीं ना कहीं जनता को खटक रहा है और जनता भी अब सोशल मीडिया और पोस्टर बैनर के माध्यम से अपना आक्रोश प्रकट कर रही है। ऐसे में सियासत भला कैसे चुप रह जाती। ऐसे में मौके की नजाकत को देखते हुए सियासत मुद्दों को गंभीरता से उठाने में कोई कमी नही छोड़ रही। आखिरकार उपचुनाव भी दस्तक दे रहे हैं तो ऐसे में दोनों पार्टियां एक दूसरे के हर मुद्दे को भंजाना चाहेंगीं।

क्या कहते हैं लोग
भ्रम पैदा करके कांग्रेस ने जनता के वोट झटके हैं और इस लिहाज से वायरल हुआ मैसेज बिल्कुल सही है, जो विपक्ष की भूमिका भी ढंग से न निभा पाएं उनके लिए जनता यही करेगी।
कैलाश सोनी, राज्यसभा सांसद
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और एनपी प्रजापति को लॉक डाउन के चलते भोपाल में फंसे हैं, कांग्रेस जनता की सच्ची सेवक है, हमारी पार्टी लोगों की पूरी शिद्दत से सेवा कर रही है।
मैथिली शरण तिवारी, जिलाध्यक्ष,कांग्रेस