सांसद कैलाश सोनी ने छिंदवाड़ा-सागर रेल लाइन को बजट में शामिल करने की रखी मांग

0
68

dayanand chourasia

छिंदवाड़ा। मध्यप्रदेश से राज्यसभा सांसद कैलाश सोनी ने एमपी में रेल परियोजना के लिए कारगर कदम उठाने की मांग की है. कैलाश सोनी ने सदन में कहा कि सरकार छिंदवाड़ा, करेली, देवरी, सागर रेल परियोजनाओं का काम आगे बढ़ाए.

सदन में सोनी ने बताया कि 1970 से सागर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, नागपुर में लगातार इस रेल लाइन को लेकर आंदोलन चलता रहा है. संविधान निर्मात्री समिति के सदस्य हरि विष्णु कामथ ने इस समस्या को 1970 से लगातार इस सदन में प्रश्न उठाया है. बुंदेलखंड के गोंडवाना, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा आदिवासी एरिया से होते हुए नागपुर तक रेल लाइन जुड़ जाती है. ये विकास के नए सोपान तय करेगी.

इसका सर्वे रेलवे बोर्ड में सबमिट किया जा चुका है, इसके बनने से दूरी बहुत कम हो जाएगी. जिससे इसकी लागत बहुत जल्द वसूल हो जाएगी. दक्षिण नागपुर तक अभी ट्रेन से जाने में 12 घंटे लगते हैं. उन्होंने कहा कि अगर लाइन बनती है तो महज ढाई से 3 घंटे में नागपुर पहुंच सकते हैं, साथ ही 5 हजार गांव इस रेल परियोजना से लाभान्वित होंगे.

5 जुलाई को पहले सप्ताह में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आम बजट के साथ रेल बजट प्रस्तुत करेंगी. रेलवे बोर्ड के मुताबिक ये रेल लाइन 279.37 किलोमीटर लंबी है. जिसकी लागत 4805 करोड़ रुपए प्रस्तावित हैं. इस मार्ग के बनने से नागपुर के रास्ते दक्षिण जाने व राजधानी दिल्ली की दूरी भी कम हो जाएगी. बुंदेलखंड की आबादी देश की आबादी का 5 प्रतिशत है, लेकिन रेल लाइन देश की कुल लाइनों की एक प्रतिशत भी नहीं है. ये रेल मार्ग उत्तर भारत में देश की राजधानी दिल्ली तथा दक्षिण भारत में चेन्नई कन्या कुमारी की लंबी दूरी को कम करेगा. साथ ही कैलाश सोनी ने रेल मंत्री पीयूष गोयल से मिलकर छिंदवाड़ा, करेली, देवरी, सागर रेल लाइन के लिये बजट आवंटन की मांग की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here