खाद्य तेलों में लगा महंगाई का तड़का

0
8

-अब सोया तेल हुआ महंगा

भोपाल। मप्र में पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस सिलेंडर के बाद अब खाद्य तेलों की कीमतों में भी उछाल आ गया है। इससे एक बार फिर लोगों की जेब ढेली होगी। वहीं अचानक बढ़े दामों से लोगों में आक्रोश भी देखा जा रहा है। दरअसल, निर्यात में हो रही बढ़ोतरी और सीबोट सोया तेल में तेजी के सहारे मलेशिया पाम तेल मंगलवार को 5.14 फीसद तक और उछल गया।

महंगाई बरकरार

एसजीएस के अनुसार अप्रैल महीने में मलेशिया पाम तेल के एक्सपोर्ट में 13.4 फीसदी की बढ़ोतरी आई है। रमजान महीने के चलते मजदूरों की कमी के चलते आउटपुट में गिरावट आ सकती है। तकनीकी रूप से मलेशिया पाम तेल अपने रेजिस्टेंस 4051 के ऊपर बंद हुआ। ऐसे में अगर बुधवार को भी इस स्तर पर बरकरार रहने में सफल रहा तो और तेजी देखने को मिल सकती है।

रिकॉर्ड स्तर पर दाम

मंगलवार को वायदा मार्केट में सोया तेल में भारी सट्टेबाजी के चलते हाजर बाजार में बढ़त का सिलसिला जारी रहा। स्थानीय बाजार में सोया तेल जहां 1460 रुपए प्रति 10 किलो बिका। रिटेल में यह 150 रुपये लीटर के पार पहुंच गया है। एक ओर सरकार तेल की महंगाई पर अंकुश के लिए कोई कदम नहीं उठा रही। सरसों की कीमतों में लगातार तेजी के कारण भी सोया तेल महंगा हो रहा है। सोयाबीन के दाम भी रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए है।

लूज तेल: इंदौर मूंगफली तेल 1570 से 1590, मुंबई मूंगफली तेल 1580, इंदौर सोयाबीन रिफाइंड 1450 से 1460, इंदौर सोयाबीन साल्वेंट 1390 से 1395, मुंबई सोया रिफाइंड 1400 से 1410, मुंबई पाम तेल 1335, इंदौर पाम 1410, राजकोट तेलिया 2450 से 2460, गुजरात लूज 1545 से 1550, कपास्या तेल इंदौर 1415 रुपए।

तिलहन: सरसों 6100 से 6200, रायडा 6400 से 6500, अलसी 7500, सोयाबीन 7200 से 7300 रुपए क्विंटल। सोयाबीन डीओसी स्पॉट 60000 से 62000 रुपए टन।
सोयाबीन के भाव – शांति 7550, बैतूल 7450, बंसल 7400, प्रेस्टीज 7450, महाकाली 7450, कृति 7250, रुचि 7400, इटारसी 7400, नीमच 7500, पचोर 7450, सिवनी 7400 व एवी 7450 रुपए।