एलएसी पर चीन की हर गतिबिधि पर नजर रखने भारत मजबूत कर रहा कम्युनिकेशन सिस्टम

0
13

नई दिल्ली, चीन से वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चल रहे तनाव के बीच भारत अब हर वो तैयारी दुरुस्त कर रहा है जो अभीतक नहीं हुई थी। सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमिटी ने LAC के करीब मजबूत कम्युनिकेशन सिस्टम लगाने की मंजूरी दे दी है। सेना के लिए यह तैयारी काफी अहम मानी जा रही है। 7,800 करोड़ रुपये की इस योजना के लागू होने के बाद दुश्मन देश सीमा पर कोई नापाक कारस्तानी नहीं कर पाएंगे। दुश्मन की हर हरकत पर अब सेना की पैनी नजर होगी।

रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि CCS ने लंबे समय से आर्मी स्टेटिक स्वीच्ड कम्युनिकेशन नेटवर्क के फेज चार को स्थापित करने की मांग को मंजूरी दे दी है। इसकी स्थापना इंडियन टेलीफोन इंडस्ट्री करेगी। इस मामले में 7,796 करोड़ रुपये के अनुंबध पर हस्ताक्षर भी हो गया है।

मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से किसी भी प्रकार के अभियान के दौरान बेहतर सर्वेक्षण और हाई बैंडविथ मिलेगी और अंतरराष्ट्रीय सीमा के करीब कम्युनिकेशन कवरेज को बढ़ाएगा। अधिकारियों ने बताया कि नेटवर्क के जरिए पूर्वी सेक्टर और पश्चिम सीमा पर दूरदराज के इलाके में हाई बैंडविथ कम्युनिकेशन बढ़ेगा।

सेना को मिलेगी बड़ी बढ़त
बयान में कहा गया है कि इस प्रोजेक्ट से LAC पर सेना को अपने अभियान में बड़ी बढ़त हासिल होगी और संवेदनशील इलाकों में सेना को अपनी तैयारियों में मजबूती मिलेगी। बता दें कि LAC पर भारत भारत और चीन के बीच मई से ही तनातनी चल रही है। भारतीय सेना कई ऊंचाई वाले इलाकों में पैठ बना चुकी है।