पीथमपुर में चोरी की नीयत से फैक्ट्री में घुसे दो युवकों को पीट-पीटकर मार डाला

0
4

लाठी-डंडों से इस कदर पीटा कि दोनों की जान चली गई

इंदौर, पीथमपुर औद्योगिक क्षेत्र में सिक्योरिटी गाड्र्स ने दो युवकों की पीट-पीटकर हत्या कर दी। ये युवक अपने साथियों के साथ फार्मा कंपनी की फैक्ट्री में चोरी की नीयत से घुसे थे। इनमें से दो युवकों को गार्डों ने पकड़ लिया और लाठी-डंडे से जमकर पीटा। मारपीट के बाद मौके से कंपनी में तैनात छह गार्ड भाग निकले। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घटना के संबंध में पूछताछ की। सूत्रों की माने तो पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है।
औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर के स्पेशल इकोनामिक जोन सेक्टर- 3 में स्थित मिशन फार्मा बंद पड़ी दवाई कंपनी में मंगलवार देर रात चोरी की नियत से करीब 7 चार घुसे थे। बताया जा रहा है कि फैक्ट्री में 6 सुरक्षाकर्मी थे। चारों की आहट मिलते ही सुरक्षाकर्मियों ने इन्हें घेर लिया। इसके बाद दोनों में जमकर झड़प हुई। मौका पाकर अन्य साथी तो भाग निकले, लेकिन 17 साल का नाबालिग अपने एक साथी 23 साल के रोशन के साथ सुरक्षाकर्मियों के हत्थे चढ़ गया। इसके बाद इन्होंने लाठी-डंडों से पीट-पीटकर बड़ी ही बेरहमी से दोनों की हत्या कर दी। जांच करने पहुंची पुलिस को वह लाठी भी मिली है, जिससे उन्होंने युवकों को पीटा था। वहीं, परिसर स्थित झाड़ी में युवकों के शव मिले हैं। जिन्हें पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया गया।

धार एसपी आदित्य प्रताप सिंह ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि 5 से 7 युवक चोरी की नीयत से फैक्ट्री में घुसे थे। फैक्ट्री के गार्ड ने उन्हें देख लिया और पीछा कर दो युवकों को पकड़ लिया। पकड़ में आए युवकों की गार्ड ने जमकर धुनाई की, जिसके बाद दोनों की मौत हो गई।
वहीं, मरने वाले युवकों के परिजन ने आरोप लगाया कि उन्होंने रात में ही पुलिस को सूचना दी, लेकिन समय पर पुलिस नहीं पहुंची। एसपी का कहना था कि सूचना के बाद ही पुलिस एक्शन में आ गई थी। मामले में जांच की जा रही है। जल्द ही फरार सभी आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा।