स्मार्ट सिटी योजना के तहत सागर में 126 करोड़ से बनेंगी पांच स्मार्ट सड़कें

0
41

anil dubey

सागर, स्मार्ट सिटी योजना के तहत पांच स्मार्ट सड़कें बनाई जाएंगी जिनकी एसएससीएल (सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड) ने डिजाइन और डीपीआर तैयार कर ली है। इन पांचों सड़कों में वे सब सुविधाएं व खासियत होंगी जो किसी भी सड़क को स्मार्ट बना सकती हैं। पांचों मार्गों पर साइकिल ट्रेक, फायर हाइड्रेंट्स, गैस पाइन के साथ मल्टीडक्ट जैसे सुविधाएं राहगीरों को दीं जाएंगी। एसएससीएल के सीईओ राहुल सिंह राजपूत ने बताया कि पांचों सड़कें 126.54 करोड़ रुपए की राशि से बनेंगी, इसकी टेंडर प्रक्रिया 20 मई से शुरू करेंगे। एसएससीएल ने सड़कों को एसआर (स्मार्ट रोड) -1, 2, 3, 4 और 5 नाम दिया है।

एबीडी क्षेत्र के हैं सभी मार्ग

स्मार्ट सिटी योजना के एबीडी (एरिया बेस्ड डवलपमेंट) के तहत आने वाले क्षेत्र में ही ये सभी पांचों रोड तैयार की जा जाएंगी। योजना के तहत सबसे ज्यादा विकास कार्य एबीडी कम्पोनेंट के तहत ही होने हैं जिसमें इस क्षेत्र में स्वास्थ्य, शिक्षा, बेहतर सड़क, पार्क जैसी सुविधाएं शहरवासियों की दी जाएंगी।

ये हैं वो पांच सड़कें

एसआर-1: दीनदयाल चौराह बस स्टैंड से तिली टिगड्डा तक

एसआर-2: तिली टिगड्डा से ज्योति भवन होते ही सिविल लाइन चौराहा तक

एसआर-3: दीनदयाल चौराहा बस स्टैंड से ज्योति भवन तक

एसआर-4: तीन मढि़या से सिविल लाइन चौराहा तक

एसआर-5: कटरा मस्जिद के चारों ओर स्थित मार्ग

इन चार मार्गों से मिलकर बना है एसआर-5

एसआर-5ए: कटरा मस्जिद से तीन बत्ती

एसआर-5बी: कटरा मस्जिद से कीर्ति स्तंभ

एसआर-5सी: कटरा मस्जिद से विजय टॉकीज चौराहा

एसआर-5डी: कटरा मस्जिद से राधा तिराहा तक

सड़कों में ये रहेंगी सुविधाएं

– स्ट्रीट लाइट सड़क के बीचोंबीच रहेगी, जो एलईडी की रोशनी से क्षेत्र को जगमग करेंगी। खासबात यह रहेगी की सारी केबिल अंडरग्राउंड ही रहेंगी।

– सभी सड़कों में डिवाइडर और फुटपाथ रहेंगे।

– कटरा क्षेत्र के सभी मार्गों पर फायर हाइड्रेंट्स की सुविधा विशेष तौर पर रहेगी।

– तिली टिगड्डा से सिविल लाइन चौराहा तक साइकिल ट्रेक की विशेष सुविधा रहेगी।

– एचटी/एलटी लाइन्स के लिए मल्टीडक्ट की सुविधा रहेगी ताकि सड़कों को खोदना न पड़े।

– जगह मिलने पर सड़क किनारे ही सभी मार्गों पर वाहन पार्र्किंग की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी।

– मार्गों पर बारिश का पानी बिलकुल भी जमा न हो इसके लिए ड्रैनेज पर सबसे ज्यादा फोकस किया जाएगा।

– मार्गों पर जगह-जगह लेंडस्केपिंग यानि हरियाली को लेकर भी प्लान में ज्यादा गंभीरता से फोकस किया गया है।

– सभी मार्गों पर स्ट्रीट फर्नीचर की सुविधा रहेगी ताकि कोई व्यक्ति मार्ग में कहीं पर बैठना चाहता है तो उसे परेशान न होना पड़े।

– इंटेलीजेंट ट्रैफिक सिस्टम के साथ हाइडेंसिटी के सीसीटीवी कैमरा भी लगाए जाएंगे।

गुणवत्ता के साथ होंगे सभी कार्य

पांच स्मार्ट सड़कों के लिए 20 मई से प्रक्रिया शुरू होगी। जुलाई के महीने से जमीनी स्तर पर काम शुरू हो जाएगा। योजना के तहत सभी कार्य गुणवत्ता के साथ तय समयसीमा में पूरे होंगे।

राहुल सिंह राजपूत, सीईओ, एसएससीएल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here