बेरोजगार युवक-युवितयों के लिए रोजगार मेलों का आयोजन

0
3

2115 बेरोजगारों को किया जाब आफर

rafi ahmad ansari
बालाघाट। म.प्र. राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बालाघाट द्वारा कलेक्टर श्री दीपक आर्य, एवं जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती आर. उमा महेश्वरी के मार्गदर्शन में कोविड-19 संक्रमण के दौरान विभिन्न शहरों से वापस आए हुए प्रवासी श्रमिक, बेरोजगार युवक/युवतियों के लिए जिले के समस्त विकासखण्डों में रोजगार मेलो का आयोजन कर उन्हें पुन: रोजगार से जोड़ने का कार्य किया गया है।

जिले के समस्त विकासखण्डों में रोजगार मेले के माध्यम से क्रमश: कैप्स्टन सिक्योरिटी सविर्सेस हैदराबाद, पी.व्ही. टेक्सटाईल नागपुर, आर.एन.एम. एजुकेशन जबलपुर आदि कम्पनियों द्वारा सहभागिता की गई। साथ ही जिले में स्थित प्रशिक्षण संस्था डीडीयू-जीकेवाय बालाघाट एवं आरसेटी बालाघाट द्वारा शिक्षित बेरोजगार युवक/युवतियों को प्रशिक्षण प्रदाय किए जाने हेतु चयनित किया गया। जिससे बेरोजगार युवक/युवतियों द्वारा स्वयं का उद्यम प्रारंभ कर सके। जिले के समस्त विकासखण्डों में विभिन्न रोजगार मेलों में कुल 4000 युवक/युवतियों का पंजीयन किया गया एवं 2115 बेरोजगार को जाब आफर किया गया। 136 युवक/युवतियों को हरी झंडी दिखाकर विभिन्न शहरों में रोजगार हेतु रवाना किया है।

रोजगार मेलों में चयनित युवक/युवतियों के प्रथम दल को जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी, श्रीमती आर. उमा महेश्वरी द्वारा हरी झंडी दिखाकर हैदराबाद रवाना किया गया। इस अवसर पर उनके द्वारा चयनित युवक/युवतियों को समझाईश दी गई कि वे अपना कार्यों का ईमानदारी एवं जिम्मेदारी से निर्वहन करें एवं अपने बुजूर्ग माता-पिता को राशि से सहयोग करें एवं अन्य युवक/युवतियों को रोजगार हेतु प्रेरित करे। विकासखंडों में आयोजित रोजगार मेले के कार्यक्रमों को सफल बनाने में सभी 10 जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं श्री ओमप्रकाश बेदुआ, जिला परियोजना प्रबंधक एनआरएलएम, श्री सुनिल उइके जिला प्रबंधक कौशल विकास एवं रोजगार सहित आजीविका मिशन के विकासखण्ड स्तरीय अमले का विशेष सहयोग रहा।