दिग्विजय सिंह के खिलाफ थाने में शिकायत, रेप पीड़िता की पहचाान उजागर करने का आरोप

0
7

divya mishra

ग्वालियर, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह की तरफ से हाथरस की घटना और बलात्कार पीड़िता की मौत के बाद किए गए एक ट्वीट पर बीजेपी ने आपत्ति जताई है. बीजेपी ने बकायदा ग्वालियर पुलिस को दिग्विजय सिंह के खिलाफ आवेदन दिया है.

दिग्विजय सिंह ने गुरुवार को हाथरस की घटना पर फोटो ट्वीट करते हुए लिखा था ‘योगी आदित्यनाथ इस्तीफा दो’. ट्वीट में खेत में खड़ी हुई एक लड़की की फोटो थी और एक वेंटिलेटर पर लेटे हुए. ट्वीट की गई फोटो पर लिखा था ‘जुबान एक बेटी की कटी और गूंगा पूरा देश हो गया’.

इस ट्वीट पर मध्य प्रदेश बीजेपी आईटी और सोशल मीडिया विभाग के प्रदेश संयोजक शिवराज सिंह डाबी ने दिग्विजय सिंह द्वारा ट्विटर एकाउंट पर हाथरस की पीड़ित बालिका की तस्वीर सार्वजनिक करने के खिलाफ ग्वालियर एसपी को शिकायत दी है और दिग्विजय सिंह के खिलाफ धारा 228 (क) और 420 के तहत मामला दर्ज करने के लिए आवेदन दिया है.

अर्जी में शिवराज डाबी ने कहा है कि रेप पीड़िता की पहचान उजागर न करने के संबंध में भारतीय दंड संहिता की धारा 228 (क) के तहत स्पष्ट प्रावधान है जिसमें यह कृत्य गंभीर अपराध है. आवेदन में लिखा है कि दिग्विजय सिंह द्वारा की गई पोस्ट में बालिका का जो साधारण फोटो डाला गया है वह फोटो हाथरस की बालिका का न होकर चंडीगढ़ की एक लड़की का है जिसकी 2 साल पहले मौत हो चुकी है. बीजेपी ने आरोप लगाया है कि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए पीड़िता और उसके परिवार की छवि खराब की है.