फर्जी निकली 12 लाख रूपये लूट की घटना

0
3

रिश्तेदार के पैसे ना लौटाने के लिये फरियादी ने ही रची थी झूठी कहानी

awdhesh dandotia
मुरैना। सिविल लाइन थाना पुलिस द्वारा 24 घंटे के अंदर 12 लाख की लूट की घटना का पर्दाफाश कर लिया गया है। फरियादी द्वारा अपने रिश्तेदार से उधार लिये पैसों को ना लौटाने के लिये फर्जी लूट की कहानी तैयार की गई थी। पुलिस अधीक्षक द्वारा फर्जी लूट की घटना की गुत्थी सुलझाने पर सिविल लाइन थाना प्रभारी व उनकी टीम को पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।
पुलिस के अनुसार सोमवार को फरियादी रामेन्द्र सिंह गुर्जर पुत्र उदय सिंह गुर्जर उम्र 23 वर्ष निवासी सिद्धेश्वर नगर ग्वालियर ने थाना सिविल लाइन मुरैना क्षेत्र के शिकारपुर रोड पर अपने साथ 12 लाख रूपये लूट की शिकायत डायल 100 के माध्यम से एवं लिखित शिकायत की। इस बात की सूचना तुरंत पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया एवं एएसपी हंसराज सिंह एवं सीएसपी सुधीर कुशवाह को दी गई। सूचना पर से वरिष्ठ अधिकारियों ने मौक पर पहुंचकर घटना का बारीकी से निरीक्षण किया। पुलिस द्वारा घटना के संबध में फरियादी से कई बार पूछताछ की गई, जिसमें फरियादी संदिग्ध प्रतीत हुआ, क्योंकि फरियादी द्वारा जो रास्ता बताया गया था। उनके सीसीटीव्ही फुटेज खंगालने पर कुछ नहीं मिला। जब घटना के संबध में सख्ती से पूछताछ की गई, तो आवेदक ने बताया कि वह अपने रिश्तेदार से 12 लाख रूपये 2 दिन की उधारी का बोलकर लाया था। 2 दिन बाद वापस ना करने पर स्वंय सुनियोजित घटना करना व अपने रिश्तेदार के पैसे वापस ना करने के कारण उक्त घटना को अंजाम दिया गया एवं उधारी के पैसे स्वंय अपने रखकर झूठी घटना कारित की। उक्त घटना का खुलासा करने में थाना सिविल लाइन पुलिस टीम व वरिष्ठ अधिकारी सीएसपी सुधीर सिंह कुशवाह, थाना प्रभारी सिविल लाइन निरीक्षक विनय यादव व उनि शिवप्रताप सिंह व मनोज बर्दिया व सउनि लक्ष्मण सिंह व आर शिवप्रताप सिंह, अवनीश, रामकिशन सिंह, गजेन्द्र सिंह, जितेन्द्र सिंह, संजय, सतेन्द्र सिंह, लालसिंह, मुनेन्द्र सिंह की सराहनीय भूमिका रही। उक्त कार्यवाही की गुत्थी सुलझाने में पुलिस अधीक्षक द्वारा थाना प्रभारी व टीम को उचित इनाम देने की घोषणा की गई।