हाथरस मामला : गले की हड्डी में चोट और हार्ट अटैक से हुई थी पीड़िता की मौत, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में किया गया दावा

0
2

नई दिल्ली
उत्तर प्रदेश के हाथरस मामले की पीड़िता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ चुकी है। दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान मंगलवार सुबह 6:15 बजे हार्ट अटैक होने के कारण उसकी मौत हो गई थी। पीड़ित लड़की को सोमवार दोपहर 3:39 बजे इमरजेंसी विभाग के आईसीयू-2 में भर्ती किया गया था। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसा प्रतीत होता है कि पीड़िता का गला दबाने के कारण गले और रीढ़ की हड्डी टूट गई थी। उसे हार्ट अटैक भी हो चुका था और फेंफड़ा भी ठीक से काम नहीं कर पा रहा था। इस वजह से वह खुद से ठीक से सांस भीं नहीं ले पा रही थी।

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी समेत 203 कांग्रेसी नेताओं पर FIR दर्ज
जब उसे अस्पताल लाया गया उस दौरान पीड़िता के शरीर में ऑक्सीजन का स्तर महज 50 फीसदी था। इस वजह से पीड़िता की हालत बहुत खराब थी। इस वजह से तुरंत आईसीयू में भर्ती कर वेंटिलेटर सपोर्ट दिया गया। सुबह 5:30 बजे उसे कार्डियक अरेस्ट हुआ। डॉक्टरों ने सीपीआर (कार्डियक पल्मोनरी रेससिटेशन) देकर उसकी जान बचाने की कोशिश की, लेकिन उसकी मौत हो गई। अस्पताल प्रशासन ने पीड़िता की जीभ कटे होने की बात से इनकार किया है। अस्पताल के डॉक्टरों ने मंगलवार सुबह 6 बजकर 15 मिनट पर पीड़िता को मृत घोषित कर दिया था। डॉक्टरों ने बताया कि पीड़िता की गर्दन पर गहरे जख्म थे और उसकी रीढ़ की हड्डी में भी गम्भीर चोट लगी थी।  गौरतलब है कि हाथरस में गैंगरेप की शिकार 19 वर्षीय दलित लड़की की मंगलवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई थी। हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में 14 सितंबर को लड़की के साथ कथित तौर पर गैंगरेप की वारदात हुई थी। पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है।