शासकीय निर्माणाधीन भवनों में दिव्यांगों के लिये रैम्प निर्माण अनिवार्य : मंत्री पटेल

0
2

भोपाल

सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा है कि सभी निर्माणाधीन शासकीय भवनों में दिव्यांगों के लिये रैम्प और तीन मंजिल से अधिक के भवनों में अनिवार्य रूप से लिफ्ट लगवायें। पटेल ने आयुक्त नि:शक्तजन कल्याण संदीप रजक को बड़वानी में विभागीय गतिविधियों की समीक्षा के दौरान यह व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि पुराने शासकीय कार्यालय भवनों में भी रैम्प का निर्माण सुनिश्चित करें ताकि दिव्यांगजनों को कठिनाई का सामना न करना पड़े।

सवारी वाहनों में किराये में 50 प्रतिशत की छूट और पाँच सीटें दिव्यांगों के लिये

मंत्री पटेल ने कहा कि सवारी वाहनों में दिव्यांगों के लिये किराये में 50 प्रतिशत छूट और आगे की 5 सीटें आरक्षित करने का प्रावधान है। यदि कहीं इसका उल्लंघन पाया जाता है तो संबंधित के खिलाफ जुर्माने और परमिट निरस्त करने की कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने सार्वजनिक स्थानों टॉकीज, होटलों आदि में भी दिव्यांगों के लिये बाधारहित प्रवेश व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

शिविर लगाकर दिव्यांगों को प्रमाण-पत्र दें

मंत्री पटेल ने कहा कि दिव्यांगों को कल्याणकारी योजनाओं का अधिकतम लाभ मिल सके, इसके लिये उनके पास मेडीकल बोर्ड का प्रमाण-पत्र होना आवश्यक है। प्रमाण-पत्र के लिये विकासखंडों में विशेष शिविर लगाकर दिव्यांगों को प्रमाण-पत्र उपलब्ध करायें। साथ ही शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में दिव्यांगजनों का डाटाबेस अद्यतन करें। दिव्यांगजनों का यूडीआई कार्ड भी प्राथमिकता से बनायें। उन्होंने शासकीय भर्तियों में दिव्यांगों के लिये आरक्षित 6 प्रतिशत का लाभ भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

निर्माणाधीन डीडीआरसी का निरीक्षण

मंत्री पटेल ने बड़वानी में निर्माणाधीन डीडीआरसी (डिस्ट्रिक्ट डिसएबेलेटी रिहेबिलिटेशन सेन्टर) का आयुक्त रजक के साथ निरीक्षण किया। पटेल ने निर्माण कार्य की प्रशंसा करने के साथ शेष बचे बिजली फिटिंग के कार्य को भी जल्दी पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने नेत्रहीन दिव्यांगों के लिये केन्द्र के फर्श पर लगाई गई विशेष टाइल्स और दिव्यांगों की सुविधानुसार बनाये गये शौचालय और स्नानागार निर्माण की भी प्रशंसा की। मंत्री पटेल ने सेंधवा के दिव्यांग पूनमचन्द्र राठौर को व्हीलचेयर भेंट की।