भाजपा विधायक ने 17 घंटे गोशाला पर दिया धरना, तीन अधिकारियों पर दर्ज हुआ मुकदमा 

0
1

बुलंदशहर 
यूपी के बुलंदशहर में गांव नगलाकरन की गोशाला पर अव्यवस्थाओं को लेकर अनूपशहर के भाजपा विधायक संजय शर्मा ने रात भर डेरा जमा लिया। करीब 17 घंटे तक विधायक गोशाला पर डटे रहे। इससे पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों में खलबली मच गई। डीएम-एसएसपी, एडीएम, सीवीओ, एसडीएम समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। विधायक की डीएम से कड़ी नोकझोंक हुई। नोकझोंक का वीडियो भी वायरल हो गया। लापरवाही और अव्यवस्था को लेकर पशु चिकित्साधिकारी, ग्राम प्रधान और एडीओ पंचायत पर एफआईआर दर्ज कराई गई है। सीवीओ के खिलाफ कार्रवाई के लिए डीएम ने शासन को लिखा है। डीएम-एसएसपी के आश्वासन पर विधायक शांत हुए। इस मामले को लेकर लखनऊ तक हलचल मची रही।

बता दें कि शुक्रवार शाम विधायक संजय शर्मा ने डीएम से मिलकर नगलाकरन गोशाला की शिकायत की थी। इसके बाद विधायक ने नगलाकरन गांव में गोशाला के बाहर डेरा डाल दिया। वहां विधायक समर्थकों की भारी भीड़ जुट गई। रात करीब 11 बजे एडीएम प्रशासन रवीन्द्र कुमार मौके पर पहुंचे। एडीएम ने विधायक की काफी मान मनोवल की, लेकिन विधायक डीएम से ही वार्ता कर गोशाला में सुधार पर की और दोषियों पर कार्रवाई की बात पर अडिग रहे। विधायक पूरी रात समर्थकों के साथ गोशाला के बाहर डटे रहे। सुबह लखावटी ब्लॉक का पूरा अमला आ गया। सुबह करीब 6 बजे डीएम रविन्द्र कुमार गोशाला पहुंचे। यहां ग्रामीणों से पूछताछ की। ग्रामीणों ने बताया कि गोवंशों को हरा चारा नहीं मिल रहा है, जिस कारण गोवंशों की मौतें हो रही हैं। इस दौरान डीएम की विधायक से नोकझोंक हो गयी। डीएम ने वीडीओ को जमकर फटकर लगाई। डीएम ने विधायक को बताया कि मामले में ग्राम प्रधान विकास राघव, पशु चिकित्सक डॉ.चंद्रजीत सिंह, एडीओ पंचायत श्रीपाल सिंह के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज कर ली गयी है। 

रविन्द्र कुमार डीएम ने बताया कि गोशालाओं में गोवंशों के प्रति चारे और रखरखाव में लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी। दोषियों पर एफआईआर दर्ज कराई गई है। संजय शर्मा, विधायक अनूपशहर ने बताया कि गोशालाओं में सुधार का प्रयास आगे भी जारी रहेगा। जिला प्रशासन और शासन में गोशालाओं की स्थिति को लेकर अवगत कराया गया है। लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई के साथ गोवंशों की उचित देखभाल सुनिश्चित की जाएगी।