प्रदेश के तकनीकी शिक्षकों ने की की सातवें वेतनमान की मांग

0
6

भोपाल
प्रदेश के इंजीनियरिंग एवं पॉलिटेक्निक महाविद्यालयो तथा राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय  के तकनीकी शिक्षकों ने आज सातवें वेतनमान की मांग के लिए राजीव गांधी प्रौद्योगिकी  विश्वविद्यालय के परिसर में एकत्र हो संकेतिक धरना दिया जिसमें प्रदेश के विभिन्न इंजीनियरिंग महाविद्यालयो एवं पॉलिटेक्निक महाविद्यालयों के शिक्षक भी शामिल थे।  

शिक्षकों ने सातवां वेतनमान दिए जाने संबंधी एक सूत्री मांग रखते हुए विश्वविद्यालय परिसर में पैदल मार्च किया एवं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सुनील गुप्ता को ज्ञापन भी सौंपा।  तकनीकी शिक्षक संघ के अध्यक्ष प्रोफेसर उदय चौरसिया ने बताया कि कुलपति द्वारा मांग को गंभीरता से लिया गया एवं उनके द्वारा संबंधित अधिकारियों से दूरभाष पर चर्चा भी की गई एवं  चर्चा के उपरांत उनके द्वारा बताया गया कि सातवां वेतनमान सभी तकनीकी संस्थाओं में शीघ्र ही लागू कर दिया जाएगा इस संबंध में कार्यवाही की जा रही है ।

तकनीकी शिक्षकों द्वारा रोष व्यक्त किया गया कि प्रदेश की सभी शिक्षण संस्थाओं में सातवां वेतन मान काफी समय पहले लागू कर दिया गया था सिर्फ तकनीकी शिक्षकों को लाभ नहीं दिया जा रहा है जबकि अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद द्वारा तकनीकी शिक्षकों को सातवां वेतनमान लागू करने की सिफारिश 2 वर्ष पूर्व की जा चुकी है जिसके अनुसार इन शिक्षकों को 1-1- 2016 से सातवां वेतनमान दिया जाना है।

शिक्षकों ने बताया कि कांग्रेस सरकार ने डेढ़ वर्ष तक सातवां वेतन आयोग लागू करने के संबंध में कोई कार्यवाही नहीं की उन्हें आशा थी कि भाजपा सरकार पिछली बार की तरह ही तकनीकी संस्थाओं में  सातवां वेतनमान लागू करेगी लेकिन भाजपा सरकार द्वारा भी इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है जिससे शिक्षकों का मनोबल लगातार गिरता जा रहा है। शिक्षक संघ द्वारा यह भी निर्णय किया गया है कि सातवां वेतनमान यदि शीघ्र लागू नहीं किया गया तो सभी संस्थाओं में आंदोलन किया जाएगा। शिक्षक संघ द्वारा पूर्व में सातवां वेतनमान लागू करने के लिए मुख्यमंत्री, विभागीय मंत्री एवं सचिव को ज्ञापन सौंपा जा चुका है ।