पत्नी की तलाश में पति थाने में ही भूख हड़ताल पर बैठा

0
3

हनुमानगढ़
 राजस्थान के हनुमानगढ़ (Hanumangarh) में एक शख्स अपनी पत्नी की तलाश में भूख हड़ताल पर बैठ गया है. उसका कहना है कि 14 अगस्त को उसकी पत्नी को अगवा कर लिया गया. पति का आरोप है कि गोल्डी नाम का एक शख्स घऱ पहुंचा और बंदूक की नोंक पर पत्नी का अपहरण (Kidnap) कर लिया. पूरे मामले की शिकायत पुलिस से भी की गई लेकिन घटना को करीब 7 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है. अब परेशान पति मदद की गुहार लेकर पुलिस (Police) के पास पहुंच है.

अपनी पत्नी को बरामद करने और पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए एक युवक अपने ससुराल पक्ष के साथ दर-दर की ठोकरें खा रहा है. पीड़ित परिवार ने न्याय की मांग को लेकर हनुमानगढ़ एसपी और कलक्टर से मिलने के लिए शनिवार को हनुमानगढ़ जिले के नोहर से जिला मुख्यालय तक 90 किलोमीटर की पैदल यात्रा की और हनुमानगढ़ कलक्ट्रेट पहुंचे. मगर शनिवार होने के कारण परिवार को न एसपी राशि डोगरा मिली और ना ही जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ही मिले. अलबत्ता परिवार को एसडीएम कपिल यादव, डीएसपी अंतर सिंह श्योराण जरूर मिले पर मामला नोहर का होने के कारण उन्होंने भी कोई ठोस आश्वासन नहीं दिया.

पत्नी का हुआ अपहरण
दरअसल, चुरू जिले के सुजानगढ़ निवासी राधेश्याम का ससुराल नोहर में है. उसका आरोप है कि गोल्डी नामक का युवक उसकी पत्नी का 14 अगस्त को पिस्तौल की नोक पर अपहरण कर ले गया. लेकिन नोहर पुलिस ने आज तक कोई कार्रवाई नहीं की. शुक्रवार को युवक ने नोहर थाना के आगे धरना लगाया और प्रण लिया कि जब तक उसकी पत्नी नहीं मिल जाती वह अन्न को हाथ नहीं लगाएगा. इसके अलावा पुलिस कार्यप्रणाली के विरोधस्वरूप युवक अपने ससुराल पक्ष के साथ नोहर से 90 किलोमीटर हनुमानगढ़ जिला मुख्यालय पर एसपी और कलक्टर से मिलने भूखा-प्यासा ही निकल पड़ा. इतने लंबे सफर के बाद भी उसको दोनों अधिकारियों के ना मिलने से निराशा ही हाथ लगी. जो अधिकारी मिले उन्होंने भी कोई ठोस आश्वासन नहीं दिया. वहीं इस बारे में नोहर पुलिस का कहना है कि वो विवाहिता को ढूंढने का प्रयास कर रहे हैं.