ग्वालियर के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जायेगी – मुख्यमंत्री चौहान

0
1

 ग्वालियर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ग्वालियर के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी जायेगी। विकास के कार्यों में पैसे की कमी आडे नहीं आयेगी। जेसी मिल के श्रमिकों को उनके मकान का मालिकाना हक दिलाने का कार्य करने के साथ ही जेएएच अस्पताल में बायपास सर्जरी की सुविधा भी मुहैया कराई जायेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 15 ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में 129 करोड़ रूपए के विकास कार्यों के भूमिपूजन एवं लोकार्पण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में यह बात कही।

ग्वालियर के इंटक मैदान पर विकास कार्यों के भूमिपूजन एवं लोकार्पण समारोह में भारत सरकार के कृषि, पंचायतीराज एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं राज्यसभा सांसद श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया, क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण मंत्री भारत सिंह कुशवाह, भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष वेदप्रकाश शर्मा सहित जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में क्षेत्र के निवासी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ग्वालियर के विकास के लिये शुरू किए जा रहे कार्यों का यह ट्रेलर है पिक्चर अभी बाकी है। ग्वालियर का विकास तेजी से किया जायेगा। पूर्व सरकार के समय जो विकास की गति रूकी थी उसे अब और तेज गति से पूरा किया जायेगा। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि गाँव, गरीब और किसान के हित में सरकार तेजी के साथ कार्य कर रही है। हर गरीब को एक रूपए प्रतिकिलो के मान से खाद्यान्न उपलब्ध कराया जायेगा। प्रदेश में 16 सितम्बर से 37 लाख परिवारों को एक रूपए प्रतिकिलो कीमत पर खाद्यान्न उपलब्ध कराने हेतु खाद्यान्न पर्ची का वितरण किया जा रहा है। प्रदेश का कोई भी गरीब अनाज से वंचित नहीं रहेगा, यह सुनिश्चित किया जायेगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ग्वालियर के जेसी मिल श्रमिकों को उनके मकान का मालिकाना हक मिले, इसके लिये सरकार कार्य करेगी। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर की मांग पर जेएएच अस्पताल में बायपास सर्जरी की सुविधा भी उपलब्ध कराई जायेगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने जनहित की जो भी योजनायें बंद की थीं हम उन सबको चालू कर जरूरतमंदों को उसका लाभ दिलायेंगे। ग्वालियर में विकास के साथ-साथ लोगों को रोजगार उपलब्ध हो, इसके लिये नए उद्योग लाने की दिशा में भी सार्थक प्रयास किए जायेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ग्वालियर को प्रद्युम्न सिंह तोमर के रूप में एक कर्मठ जनसेवक मिला है। इसका हम सबको गर्व होना चाहिए। तोमर बिना किसी अपेक्षा के जनसेवा के कार्य में सदैव लगे रहते हैं। उनकी जनसेवा का अनुशरण अन्य जनप्रतिनिधियों को भी करना चाहिए।

कार्यक्रम में केन्द्रीय कृषि, पंचायतीराज एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि ग्वालियर में विकास के कार्यों को तेजी के साथ पूर्ण करने के लिये मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कार्य कर रहे हैं। मुख्यमंत्री चौहान की पहचान विकास के रूप में ही है। मुख्यमंत्री द्वारा ग्वालियर-चंबल अंचल में विगत तीन दिवस के भ्रमण में लगभग डेढ़ हजार करोड़ रूपए के विकास कार्यों की सौगात हम सबको दी है। उनके नेतृत्व में मध्यप्रदेश विकास के रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ रहा है। मध्यप्रदेश के विकास से देश के विकास को भी गति मिलेगी।

केन्द्रीय मंत्री तोमर ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया मिलकर प्रदेश के विकास को और तेजी से कर रहे हैं। आने वाले समय में ग्वालियर में विकास के और बड़े कार्य किए जायेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में 13 सालों में जो विकास के कार्य किए गए थे वह पिछले 50 सालों में भी नहीं हुए हैं।

केन्द्रीय मंत्री तोमर ने कहा कि प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने भी विकास और सेवा के कार्य में अपनी अलग पहचान बनाई है। तोमर किसी भी भूमिका में रहे हों वे जनता की सेवा के लिये सदैव संघर्ष करते रहे हैं। वे अपने क्षेत्र के विकास के लिये कार्य करते रहें, उनको प्रदेश एवं केन्द्र सरकार का पूरा सहयोग मिलता रहेगा।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र को प्रद्युम्न सिंह तोमर के रूप में भाई, बच्चा और सच्चा सेवक मिला है। विकास के लिये उनकी कोशिश और मेहनत प्रशंसा योग्य है। किसी भी क्षेत्र को ऐसा जनप्रतिनिधि मिलने पर गर्व होना चाहिए। सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ की सरकार ने ग्वालियर की जनता के साथ विश्वासघात किया। उनके द्वारा किए गए वादों को न पूर्ण किया गया और न विकास के कार्य में कोई रूचि दिखाई गई। ग्वालियर अंचल के मान सम्मान को बनाए रखने के लिये हमें जो उचित लगा वह हमने किया। ग्वालियर के विकास के लिये हम हमेशा दृढ़ संकल्पित हैं और रहेंगे।

कार्यक्रम में क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि 229 करोड़ रूपए के विकास कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण समारोह एक अभूतपूर्व कार्यक्रम है। कांग्रेस के कार्यकाल में जो ग्वालियर के विकास के कार्य रूक गए थे वह अब तेजी से पूरे हो रहे हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश तेजी के साथ विकास कर रहा है। आम जनों के हित में भी प्रदेश सरकार तेजी के साथ कार्य कर रही है।

कार्यक्रम के प्रारंभ में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने स्वागत भाषण दिया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता ने जो मुझपर विश्वास जताया है उस पर मैं खरा उतरूँगा। क्षेत्र के विकास के लिये मुझे जो भी संघर्ष करना पड़ेगा मैं करूँगा। उन्होंने कहा कि मेरे क्षेत्र के जेसीमिल के श्रमिक लम्बे समय से परेशान हैं। मिल के बंद हो जाने के कारण रोजगार का संकट भी उनके सामने है। जेसीमिल के श्रमिकों को उनके मकान का मालिकाना हक मिले, यह मेरी पुरजोर मांग है। इसके साथ ही जयारोग्य चिकित्सालय में बायपास सर्जरी की सुविधा ग्वालियरवासियों को मिले ताकि उन्हें इलाज हेतु दिल्ली न जाना पड़े।

ऊर्जा मंत्री तोमर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को आश्वस्त किया कि विकास के लिए वे सदैव कार्य करते रहेंगे। जनता की सेवा के कार्य में कभी पीछे नहीं हटेंगे।

विकास पुस्तिका का विमोचन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर एवं राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में किए गए विकास कार्यों पर केन्द्रित विकास पुस्तिका का भी विमोचन किया। इस विकास पुस्तिका में अब तक विधानसभा क्षेत्र में 558 करोड़ रूपए के कराए गए विकास कार्यों का ब्यौरा दिया गया है।

कार्यक्रम में शासन की विभिन्न कल्याण्कारी योजनाओं के हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया और उन्हें हितलाभ का वितरण किया गया।