कड़े नियमों के साथ सत्र होगा आहूत, अनुपूरक बजट भी पेश किया जाएगा:डॉ.महंत

0
2

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधान सभा की वर्ष 2020-21 के लिए गठित पत्रकार दीर्घा सलाहकार समिति की प्रथम बैठक आज विधान सभा परिसर स्थित समिति कक्ष क्रमांक-01 मे हुई । प्रथम बैठक मे विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत विशेष रूप से उपस्थित थे। समिति की बैठक में समिति के सभापति एवं विधान सभा उपाध्यक्ष मनोज सिंह मंडावी, विधान सभा के प्रमख सचिव चन्द्र शेखर गंगराड़े एवं समिति के  सदस्यगण उपस्थित थे।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत ने बताया कि कोविड-19 के नियमावली का पूर्णत: पालन करते हुए विधानसभा में सत्र का आयोजन किया गया है। सुरक्षागत कारणों से स्वंय मीडिया को भी प्रवेश से वंचित रखा गया है लेकिन विकल्प के तौर पर क्या हो सकता है इसके लिए सुझाव भी उन्होने बैठक के दौरान सदस्यों से मांगे। ताकि विधानसभा की कार्यवाही मीडिया के माध्यम से जनता तक पहुंचायी जा सकें। इस सत्र में 579 प्रश्नों की सूचनाएं प्राप्त हुई है जिनमें 304 तारांकित एवं 275 अतारांकित प्रश्न है। अभी तक 4 स्थगन, 98 ध्यानाकर्षण, 3 अशासकीय संकल्प एवं 7 शून्यकाल की सूचनाएं मिली है। इस सत्र में अनुपूरक बजट भी पेश किया जाएगा।

उन्होने बताया कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की दृष्टि से वर्तमान में विधानसभा में उपलब्ध बैठक क्षमता में वृद्धि करते हुए 11 अतिरिक्त कुर्सियां लगाई गई है और प्रत्येक सदस्य के बीच ग्लास का पार्टिशन किया जा रहा है ताकि कोरोना के संक्रमण से बचा जा सकें। मंत्रिगण, संसदीय सचिव एवं सदस्यों तथा शासन के जिन अधिकारियों को सुरक्षा कर्मी उपलब्ध कराए गए है उन सुरक्षा कर्मियों का विधानसभा परिसर में प्रवेश वर्जित रहेगा। मंत्रिगण के साथ केवल एक स्टॉफ (विशेष सहायक-निज सचिव-निज सहायक) को परिसर में प्रवेश की अनुमति होगी, किन्तु मुख्य भवन के ए-ब्लॉक में उनका भी प्रवेश वर्जित रहेगा। विधानसभा परिसर में आम नागरिकों का प्रवेश वर्जित किया गया है। विधानसभा सचिवालय में केवल वे ही अधिकारी-कर्मचारी सत्रावधि में कार्यालय आएंगे जिनका सत्र से संबंधित अन्यथा सचिवालय के प्रतिदिन के कार्य से कार्यालय आना आवश्यक है।

सभा की बैठक प्रारंभ होने से पूर्व प्रतिदिन फ्यूमिगेशन एवं सेनेटाईजेशन का कार्य, सदस्यों का टेम्प्रेचर एवं आॅक्सीजन लेवल मापा जाएगा। कोरोना संक्रमण के रोकथाम हेतु मुख्य सभा भवन एवं मुख्य समिति कक्ष में एंटी बेक्टेरियल सरफेस कोटिंग करायी जा रही है ताकि संक्रमण की संभावना को समाप्त किया जा सकें। केंद्र शासन एवं राज्य शासन द्वारा समय-समय पर जारी समस्त निदेर्शों को पालन किया जाएगा। सदस्यों से यह भी अपेक्षा की गई है कि वे विधानसभा परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, मास्क का नियमित प्रयोग करें एवं समय-समय पर हैंड सेनेटाइजर एवं हैण्डवॉश भी करें। सत्रकाल में सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल तैनात किया जाता है, इस सत्र में जिन पुलिस बल की तैनाती विधानसभा परिसर में की गई है वे अन्य व्यक्तियों के संपर्क में न आए इसलिए उनके रुकने की व्यवस्था भी विधानसभा परिसर में ही की गई है।
सत्र के पहले दिन पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी, पूर्व मंत्री डी.पी. धृतलहरे, अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री बलिहार सिंह, पूर्व सांसद रजनीगंधा देवी और भारत-चीन सीमा पर हुई हिंसक झड़प में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित किया जाएगा। इस सत्र में 579 प्रश्नों की सूचनाएं प्राप्त हुई है जिनमें 304 तारांकित एवं 275 अतारांकित प्रश्न है। अभी तक 4 स्थगन, 98 ध्यानाकर्षण, 3 अशासकीय संकल्प एवं 7 शून्यकाल की सूचनाएं मिली है। इस सत्र में अनुपूरक बजट भी पेश किया जाएगा।