कोविड अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव बदमाश ने हथकड़ी लगे हाथों से ही पी शराब, आठ सस्पेंड

0
3

 धनबाद 
कोविड-19 अस्पताल में शराब पीने के मामले में बड़ी कार्रवाई हुई। सीएम के ट्विटर पर आदेश के बाद डीसी ने मामले की जांच कराई और एएसआई समेत आठ लोगों को सस्पेंड कर दिया गया है। शराब पीने और फोटो वायरल करने के आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। आरोपी संटू गुप्ता की दूसरी जांच रिपोर्ट निगेटिव आने पर रात में ही उसे जेल भेज दिया गया।

धनबाद के सीओ सह इंसीडेंट कमांडर प्रशांत कुमार लायक की शिकायत पर आरोपी कतरास पंचगढ़ी के संटू गुप्ता तथा फोटो वायरल करनेवाले छोटू प्रसाद गुप्ता के खिलाफ सरायढेला थाना में मामला दर्ज किया गया है। घटना के दिन ड्यूटी पर तैनात डॉ संजय कुमार, सिस्टर किरण कुमार व शारदा कुमारी तथा वार्ड ब्वॉय शंकर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। डीसी ने सभी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए बीसीसीएल प्रबंधन को निर्देश दिया है। जाम छलकाने के मामले में सुरक्षाकर्मियों की संलिप्तता की जांच के लिए एसएसपी को वरीय अधिकारियों की टीम बनाई जाएगी। एसडीओ राज महेश्वरम ने बताया कि आरोपी संटू कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उसे धनबाद जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। जांच तथा कार्रवाई रिपोर्ट मुख्यमंत्री को भेज दी गई है।

सीएम के ट्वीट के बाद प्रशासन रेस : कोविड अस्पताल में शराब पीने की वायरल तस्वीर पर सीएम हेमंत सोरेन ने रविवार को संज्ञान लिया। उन्होंने ट्विटर के माध्यम से धनबाद डीसी को मामले की जांच के आदेश दिए। साथ ही स्वाथ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के अलावा डीजीपी और धनबाद पुलिस को भी मामले में संज्ञान लेने का आदेश दिया। सीएम के आदेश पर संज्ञान लेते हुए फौरन डीसी ने मामले की जांच के लिए एसडीओ राम महेश्वरम और डीएसपी लॉ एंड आर्डर मुकेश को सेंट्रल अस्पताल में बने कोविड 19 अस्पताल भेजा। जांच रिपोर्ट के आधार पर सरायढेला थाने में आरोपी के खिलाफ सरकारी आदेश का उल्लंघन और महामारी अधिनियम सहित अन्य धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की गई है। राज महेश्वरम, एसडीओ, धनबाद ने बताया कि कोविड अस्पताल में शराब पीने की जांच की गई। आरोपी के खिलाफ सरकारी आदेश का उल्लंघन और महामारी अधिनियम की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। इस मामले में दोषी अन्य लोगों पर भी कार्रवाई होगी।

कौन-कौन हुए सस्पेंड :

कोविड अस्पताल में शराब पार्टी मामले में एसआई सुरेंद्र राम,आरक्षी भागी उरांव, चौकीदार भीम कर्मकार, हवलदार ओम प्रकाश मिश्रा, सिपाही कुलदीप उरांव, भोलवा उरांव दुखराज उरांव सस्पेंड किए गए हैं।