बेटे ने 80 साल की बुजुर्ग मां को उतारा मौत के घाट

0
3

बेटे, बहू और पोते को गिरफ्तार किया गया

महासमुंद, पांच दिन पहले हुए एक कत्ल का मामला सोमवार को पुलिस ने सुलझा दिया। 80 साल की बुजुर्ग महिला की हत्या के आरोप में महिला के बेटे, बहू और पोते को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस को बुजुर्ग महिला की लाश 20 अगस्त की सुबह तालाब में मिली थी। महिला के परिवार वालों ने पुलिस से कह दिया था कि वो उसी तालाब में नहाने जाती थी, इसी दौरान पैर फिसलने से डूबकर मर गई होगी। मगर पुलिस जांच में हत्यारे महिला के घरवाले ही निकले।

हत्या की यह वारदात महासमुंद के झुनगाबाड़ी पिलवाली गांव की है। यहां रहने वाली 80 साल की कार्तिक मति पटेल का शव गांव के तालाब से बरामद किया गया था। पुलिस को बुजुर्ग के शव के साथ बंधी साड़ी और साड़ी में लिपटी हुई ईंटें मिली थी। किसी ने यह कोशिश की थी कि महिला का शव पानी के अंदर ही डूबा रहे। यहीं से पुलिस का शक गहराया। इसके बाद शव की जांच में यह बात सामने आई कि महिला की मौत डूबने से नहीं, बल्कि सिर में चोट की वजह से हुई। इसके बाद पुलिस से महिला के घरवालों से और पड़ोसियों से पूछताछ की।

पुलिस को पता चला कि 19 अगस्त की शाम महिला का उसके बेटे मन्नू पटेल के साथ झगड़ा हुआ था। दरअसल, आए-दिन बुजुर्ग पर उसका बेटा अपनी खीझ उतारता रहता था। मामूली बातों पर आए-दिन बहस होती थी। आरोपी मन्नू ने बताया कि उस दिन भी झगड़ा हुआ। बेटे की शिकायत बुजुर्ग पड़ोसियों से करने लगीं। झगड़ा बाहर वालों के सामने उजागर होता देख मन्नू को गुस्सा आ गया। अपनी पत्नी मायावती पटेल और बेटा राम प्रसाद पटेल ने मिलकर महिला को पीटा। मन्नू ने इस बीच ईंट से जोरदार वार बुजुर्ग के सिर पर किया। 80 साल की कार्तिक मति जमीन पर गिरीं और उठ नहीं सकीं। लाश और अपना गुनाह छुपाने के लिए आरोपी घरवालों ने उसे तालाब में फेंक दिया था।