पोहरी में स्वीप रथ के माध्यम से ग्रामीण मतदाताओं को किया जा रहा है जागरूक

0
3

khemraj morya
शिवपुरी। जिले के पोहरी विधानसभा उपनिर्वाचन हेतु कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह के निर्देशन व एसडीएम पोहरी जेपी गुप्ता के मार्गदर्शन व स्वीप प्रभारी सीईओ पोहरी शैलेन्द्र आदिवासी तथा स्वीप सहयोगी श्याम बिहारी वर्मा व अजय शंकर त्रिपाठी के कुशल निर्देशन में प्रभारी तहसीलदार आरके जोशी द्वारा स्वीप गतिविधियों का शुभारंभ कर मास्टर टेनर्स के साथ स्वीप रथ विधानसभा के ग्रामीण क्षेत्रों में रवाना किया गया।

मास्टर ट्रेनर पातीराम आदिवासी व आरपी जाटव द्वारा रथ के माध्यम से ककरौआ, बूढदा, श्रीपुरा, गोवर्धन, गणेशखेड़ा, खैरारा बनवारीपुरा, देवपुरा आदि ग्रामों में ईव्हीएम मशीन का प्रदर्शन किया गया। इसमें इनके द्वारा महिला, पुरूष व युवा मतदाताओं को कोविड-19 संक्रमण के दिशा निर्देशानुसार आवश्यक सावधानियां बताई गई तथा उन्होंने बताया गया कि जो मतदाता 80 वर्ष से अधिक आयु के हैं एवं जो दिव्यांग मतदाता हैं तथा जो कोविड-19 से संक्रमित मतदाता हैं उन्हें घर पर ही चुनाव आयोग के निर्देशानुसार मतदान करने का अधिकार होगा। यह मतदान चलित मतदान दल के द्वारा पोस्टल बैलेट की तरह करवाया जाएगा। इसके लिये बीएलओ के माध्यम से लोग अपनी सहमति एवं असहमति प्रदान कर सकते हैं जो सहमति प्रदान करेंगे उन्हें चलित मतदान दल के द्वारा मतदान कराया जायेगा। यह प्रक्रिया पुलिस व प्रशासन की निगरानी में गोपनीयता का ध्यान रखते हुए सम्पन्न की जायेगी। स्वीप गतिविधियों के माध्यम से मतदाताओं को जागरूक कर मतदान के लिए प्रेरित किया जा रहा है। ताकि अधिक से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें।

विधानसभा उपचुनाव में आनलाइन अनुमति की सुविधा
विधानसभा उपचुनाव के तहत राजनैतिक दलों द्वारा निर्वाचन में विभिन्न प्रकार की अनुमतियों के लिए आवेदन दिए जाते हैं। इसके लिये भारत निर्वाचन आयोग के मार्गदर्शन में एकल खिड़की की व्यवस्था की गई है। अब सभी राजनैतिक दल, प्रत्याशी वेब पोर्टल द्धह्लह्लश्चह्य://ह्यह्व1द्बस्रद्धड्ड.द्गष्द्ब.द्दश1.द्बठ्ठ क्ररु के माध्यम से विभिन्न प्रकार की अनुमतियों के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। सुविधा पोर्टल के माध्यम से विशेष रूप से वाहन रैली, जनसभा, हेलीकाप्टर, अस्थाई कार्यालय की अनुमति प्राप्त कर सकेंगे। पोर्टल पर मोबाईल नम्बर के माध्यम से एक बार रजिस्ट्रेशन करने के पश्चात् सभी अनुमतियां लॉगिन आईडीध्पासवर्ड से प्राप्त की जा सकेंगी एवं उनका स्टेटस भी पता किया जा सकेगा। राजनैतिक दल के उम्मीदवार स्वयं, अपने एजेंट, पार्टी प्रतिनिधि, निर्वाचन एजेंट अपना लॉगिन स्वयं बना सकते हैं।