कोरोना के स्वदेशी वैक्सीन के तीसरे चरण का परीक्षण आज से 

0
7

तीन स्वदेशी वैक्सीन के निर्माण पर चल रहा तेजी से काम

नई दिल्ली, देश में तीन वैक्सीन पर काम हो रहा है और उनमें से एक का तीसरे चरण का परीक्षण जल्द शुरू हो जाएगा। नीति आयोग के सदस्य डॉ वी के पॉल ने मंगलवार को यह जानकारी दी। डॉक्टर पॉल ने कहा कि देश में कोरोना की तीन वैक्सीन पर काम हो रहा है, जो अलग-अलग चरणों में हैं। इसमें से एक वैक्सीन बुधवार को ट्रायल के तीसरे चरण में पहुंच जाएगी। हालांकि उन्होंने इसका नाम नहीं बताया।

उन्होंने कहा कि हम सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। वैक्सीन की सप्लाई चेन भी शुरू होगी। हालांकि यह नहीं बताया गया कि वैक्सीन कब तक बनकर तैयारी होगी। वैक्सीन की सफलता को लेकर भी कोई निश्चित दावा नहीं किया गया है। सरकार वैक्सीन निर्माता कंपनियों के लगातार संपर्क में है और उन्हें हरसंभव मदद दी जा रही है।

गौरतलब है कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन वैक्सीन का जिक्र किया था। इसी पर जानकारी देते हुए डॉक्टर पॉल ने कहा कि एक वैक्सीन तीसरे चरण में पहुंच रही है जबकि अभी अन्य दो वैक्सीन पहले और दूसरे चरण पर हैं। गौरतलब है विशेषज्ञ समूह लगातार वैक्सीन निर्माताओं के साथ मिलकर उत्पादन, मूल्य निर्धारण और वितरण पर चर्चा कर रहा है। वहीं, कोविड के बाद के लक्षणों को लेकर सरकार ने बताया कि इस पर वैज्ञानिक और चिकित्सा समुदाय निगरानी कर रहे हैं। हमें यह जानना होगा कि बाद में भी कुछ प्रभाव पड़ सकता है। लेकिन लंबी अवधि के परिणाम अभी खतरनाक नहीं है।

ऑस्ट्रेलिया में टीकाकरण मुफ्त होगा
ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने कहा है कि टीका बनने के बाद इसे मुफ्त में 2.5 करोड़ नागरिकों को उपलब्ध कराया जाएगा। मॉरिसन ने कहा कि हमने ब्रिटिश कंपनी एस्ट्राजेनेका के साथ कोविड वैक्सीन को लेकर समझौता किया है। वैक्सीन मानकों पर खरा उतरी तो ऑस्ट्रेलिया में ही उत्पादन, वितरण और आपूर्ति की जाएगी। एस्ट्राजेनेका का टीका दिसंबर के अंत तक बाजार में आ सकता है।