सांसद फूलोदेवी नेताम ने राज्यसभा उठाया जगदलपुर से धमतरी तक फोरलेन सडक बनाने का मुद्दा

0
2

यातायात के साधन न होने के कारण पर्यटन की संभावनाओं पर भी लग गया ग्रहण

रायपुर, छत्तीसगढ की राज्यसभा सांसद फूलोदेवी नेताम ने राज्यसभा में बस्तर संभाग की प्रमुख समस्याओं का समाधान करने के लिए अपनी आवाज बुलंद की, सांसद नेताम ने कहा कि बस्तर संभाग छत्तीसगढ का अति पिछडा इलाका है जहां से रायपुर तक केवल सडक मार्ग द्वारा ही जाया जा सकता है। बस्तर संभाग के पिछडेपन के सबसे प्रमुख कारणों में से एक यातायात के अल्प साधन ही हैं। इससे यहां पर्यटन की संभावनाओं पर भी ग्रहण लग गया है। केन्द्र सरकार ने बस्तर संभाग में यात्री परिवहन की अधिकता को देखते हुए सिंगल लेन के चौड़ीकरण और उन्नयन की स्वीकृति दी थी, लेकिन बस्तर में फोर लेन की आवश्यकता है।

सांसद नेताम ने यह भी कहा कि केन्द्रीय सडक परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने भारतमाला परियोजना के तहत् रायपुर, विशाखापट्टनम एक्सप्रेस-वे को मंजूरी दी है। यह एक्सप्रेस-वे बस्तर संभाग के कांकेर व कोंडागांव तक तो आ गया है, लेकिन इसमें भी जगदलपुर-नगरनार मार्ग को शामिल नहीं किया गया है।

सांसद नेताम ने बताया कि वर्तमान में 700 करोड रूपए की लागत से रायपुर से धमतरी तक फोरलेन सडक बनाने का कार्य किया जा रहा है। जिससे रायपुर से धमतरी तक तो यातायात सुगम हो जाएगा लेकिन धमतरी से जगदलपुर तक टू-लेन सडक होने के कारण समस्याऐं यथावत बनी रहेंगी।

सांसद फूलोदेवी नेताम ने केन्द्र सरकार से मांग की है कि धमतरी से बस्तर संभाग मुख्यालय जगदलपुर तक फोर लेन सडक बनाई जाए जिससे क्षेत्र का विकास संभव हो सकेगा।