बैटमार विधायक आकाश विजयवर्गीय को पार्टी जारी करेगी कारण बताओ का नोटिस!

0
44

भोपाल। इंदौर के बल्लेबाज विधायक आकाश विजयवर्गीय के बैट कांड पर अब भारतीय जनता पार्टी(BJP) के केंद्रीय नेतृत्व ने मध्य प्रदेश के नेताओं से चर्चा की है. बीजेपी की अनुशासन समिति कारण बताओ का नोटिस भेज सकती है. भाजपा संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कड़े रूख को देखते हुए पार्टी में इस मुद्दे पर हलचल बढ़ गई है.

इंदौर बीजेपी यूनिट ने आकाश विजयवर्गीय का जेल से रिहा होने के बाद स्वागत किया था. आकाश विजयवर्गीय के स्वागत समारोह में जाने वाले नेताओं के खिलाफ भी पार्टी कार्रवाई कर सकती है. गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में निगमकर्मी की पिटाई मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सख्ती दिखाई है. भारतीय जनता पार्टी के बैटमार विधायक आकाश विजयवर्गीय का नाम लिए बिना पीएम मोदी ने कहा है कि वह चाहे किसी का भी बेटा क्यों न हो, उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जाना चाहिए. ऐसे में अटकलें लगाई जाने लगी है कि क्या पार्टी आकाश से जवाब तलब करने के बाद उन्हें बाहर का रास्ता दिखाएगी.

कैलाश विजयवर्गीय के पुत्र हैं आकाश

विधायक आकाश विजयवर्गीय भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय के पुत्र हैं. कैलाश की गिनती पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के करीबियों में होती है. इसलिए घटना के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा का कोई भी नेता कुछ भी बोलने को तैयार नहीं था. अपने विधायक पुत्र का बचाव करते हुए कैलाश विजयवर्गीय ने अधिकारी और आकाश, दोनों को ही कच्चा खिलाड़ी बताया था. इस संबंध में सवाल पूछने पर कैलाश ने एक टीवी पत्रकार की औकात तक देख डाली थी.

निगम अधिकारी की बल्ले से की थी पिटाई

आकाश ने जर्जर भवन गिराने पहुंचे निगम अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीटा था. पिटाई से कर्मचारी को गंभीर चोटें आई थीं. उसका उपचार चल रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here