All type of NewsFeaturedजिले की खबरेमंडलामध्य प्रदेश

15 फरवरी को उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू करेंगे आदिवासी महोत्सव का शुभारम्भ

केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने लिया तैयारियों का जायजा

mandla-vice-president-venkaiah-naidu-will-inaugurate-the-aadi-festival-on-february-15
73Views

15 फरवरी को उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू करेंगे आदिवासी महोत्सव का शुभारम्भ

केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने लिया तैयारियों का जायजा

mandla-vice-president-venkaiah-naidu-will-inaugurate-the-aadi-festival-on-february-15

Syed Javed Ali
मंडला – जिले के नर्मदा तट पर स्थित गोंड साम्राज्य की राजधानी रामनगर का ऐतिहासिक किला जहाँ 15 और 16 फरवरी को आदिवासी महोत्सव का आयोजन होना है। 15 फरवरी को देश के उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू इसका शुभारम्भ करेंगे। पिछले आदि उत्सव में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी भी इसमें शिरकत कर चुके है। केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने रामनगर पहुंचकर 15 एवं 16 फरवरी को होने वाले आदिवासी महोत्सव की तैयारियों का निरीक्षण किया। उन्होंने संबंधित अधिकारियों की बैठक लेते हुए सभी तैयारियां 14 फरवरी के पूर्व पूर्ण करने के निर्देश दिए।

भारत सरकार के इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने बताया कि आदिवासी संस्कृति व परम्परा को सहेजने के लिए यह कार्यक्रम किया जाता है। यह गोंडवाना समागम की तरह होता है। आदिवासी संस्कृति को जिन्दा रखने और उसके इतिहास को देश – दुनिया के लोगों तक पहुँचाने के लिए किया जाता है। आदिवासी महोत्सव में आयोजित संगोष्ठी में विषय विशेषज्ञों को आमंत्रित किया गया है। आदिवासी संस्कृति को प्रदर्शित करने वाले चित्र प्रदर्शनी के साथ ही छिंदवाड़ा, डिण्डौरी, मंडला, बालाघाट आदि जिले के दलों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाऐंगे।

इस्पात राज्यमंत्री कुलस्ते ने कहा कि आदिवासी संस्कृति के संरक्षण और संवर्धन के उद्देश्य से आयोजित किए जा रहे इस कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग प्राप्त किया जाये। उन्होंने कहा कि हेलीपेड तथा मुख्य कार्यक्रम स्थल पर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जायें। हेलीपेड से लेकर कार्यक्रम स्थल तक आदिवासी संस्कृति को प्रदर्शित करने वाले चित्र प्रदर्शित किए जायें। महोत्सव के दौरान होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि छिंदवाड़ा, डिण्डौरी, मंडला, बालाघाट आदि जिले के दलों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाऐंगे। उन्होंने सभी दलों के लिए आवास एवं भोजन की बेहतर व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इस्पात राज्यमंत्री ने कहा कि संगोष्ठी में विषय विशेषज्ञों को आमंत्रित किया जाए तथा संगोष्ठी में उनके द्वारा प्रस्तुत किए गए व्याख्यानों का दस्तावेजीकरण किया जाए। श्री कुलस्ते ने कहा कि भोजन व्यवस्था के लिए रूटवार योजना बनाई जाए। उन्होंने इस कार्य में स्वयंसेवी संगठन तथा स्वसहायता समूहों की सहायता लेने के निर्देश दिए।

मुख्य कार्यक्रम स्थल का किया निरीक्षण –
इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने आदिवासी महोत्सव 2020 के मुख्य कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि मंच के पास ही सांस्कृतिक कार्यक्रम के प्रस्तुतियों के लिए पृथक से व्यवस्था बनाई जाए। उन्होंने मौसम को ध्यान में रखते हुए अलाव की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने हेलीपेड, पार्किंग, प्रदर्शनी, ध्वजारोहण, संगोष्ठी आदि के संबंध में की जा रही तैयारियों की संबंधित अधिकारियों से विस्तार से जानकारी ली। इस अवसर पर अपर कलेक्टर मीना मसराम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विक्रम सिंह कुषवाहा, एसडीएम मंडला सुलेखा उईके, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस व्ही.के. सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

कलेक्टर ने लिया आदिवासी महोत्सव की तैयारियों का जायजा –
कलेक्टर डॉ. जगदीश चन्द्र जटिया ने 15 एवं 16 फरवरी को रामनगर में होने वाले आदिवासी महोत्सव की तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने हेलीपेड, मुख्य कार्यक्रम स्थल, पार्किंग आदि व्यवस्थाओं का निरीक्षण करते हुए सभी तैयारियाँ समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए। हेलीपेड के लिए चिन्हित स्थल का अवलोकन करते हुए कलेक्टर डॉ. जगदीश चन्द्र जटिया ने ग्रीन रूम, सेफ रूम, फायरब्रिगेड तथा एम्बुलेंस की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य कार्यक्रम स्थल पर मंच, व्हीआईपी बैठक व्यवस्था, मीडिया सेंटर तथा जनसामान्य के लिए की जाने वाली बैठक व्यवस्था का अवलोकन किया। उन्होंने कहा कि बैठक व्यवस्था इस तरह बनाई जाए जिससे व्यक्ति निर्धारित स्थल तक आसानी से पहुंच सके। उन्होंने कहा कि गैलरी में सुरक्षाकर्मी के अलावा अन्य कोई व्यक्ति नहीं रूकना चाहिए। कलेक्टर ने मीडिया सेंटर का अवलोकन करते हुए निर्देशित किया कि डी के अंदर कोई भी फोटोग्राफर नहीं रहेगा। वीडियोग्राफी एवं फोटोग्राफी के लिए एक प्लेटफार्म बनाया जाये। कलेक्टर ने कहा कि कार्यक्रम में ड्रोन कैमरा प्रतिबंधित रहेगा। पार्किंग व्यवस्था के संबंध में कलेक्टर ने निर्देशित किया कि वाहनों को कतारबद्ध रूप से खड़ा किया जाये। उन्होंने कार्यक्रम स्थल एवं पार्किंग स्थल पर अलाव की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने संगोष्ठी स्थल एवं प्रदर्शनी स्थल का भी अवलोकन कर आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर ने कार्यक्रम स्थल पर चलित अस्पताल, स्वच्छ पेयजल आदि की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक दीपक शुक्ला ने सभी स्थानों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक दीपक शुक्ला, अपर कलेक्टर मीना मसराम सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

admin
the authoradmin