खबर का असर, ड्राइवर ने मांगी सार्वजनिक माफी अभद्रता से की तौबा

0
3
ड्रायवर द्वारा दिया गया माफीनामा पत्र

rakesh yadav
छिन्दवाड़ा/जुन्नारदेव, विगत दिवस स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के ड्राइवर द्वारा स्वास्थ्य कर्मियों से की गई अभद्रता के मामले को प्रमुखता से प्रकाशित कर प्रशासन के संज्ञान में लाया था। जिसमें बताया गया था कि विकासखण्ड के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एक ठेकेदार के द्वारा अधिकारियों के इस्तेमाल हेतु गाड़ियों की व्यवस्था का ठेका लिया गया हं, जिसमें बीएमओ के लिए अधिकृत वाहन के वाहन चालक सचिन राय नामक व्यक्ति से जुन्नारदेव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लगभग सभी कर्मचारी और स्वास्थ्य कर्मी वाहन चालक द्वारा रोजाना उनके कार्यो में किये जाने वाले के हस्तक्षेप के चलते त्रस्त हैं।

बीएमओ के लिए अधिकृत वाहन के वाहन चालक द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कर्मचारियों से ऐसा बर्ताव किया जाता है जैसे वह स्वयं ही खंड चिकित्सा अधिकारी हो, ओर क्यो ना हो अधिकारियों का वरदहस्त प्राप्त होने के कारण ही एक मामूली वाहन चालक स्वास्थ्य कर्मियों के कार्यो में बाधा पहुँचा कर उनके कार्यो को प्रभावित करता है जिसकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कर्मचारियों द्वारा लिखित शिकायत विभाग व थाने में की कई गई थीं। जिसमे सोमवार को विवादित वहां चालक द्वारा जुन्नारदेव थाने में लिखित माफी नामा देकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कर्मचारियों से सार्वजनिक माफी मांगी गई व माफी नामा में बताया गया कि मैं सचिन राय पिता श्री स्व.कमल राय निवासी वार्ड नं. 3 जुन्नादेव आज दिनांक 12.10.2020 को थाना परिसर जुन्नादेव में सामु. स्वा. केन्द्र जुन्नारदेव के समस्त कर्मचारियो को मेरे द्वारा किये गये पूर्व एव वर्तमान में तारीख 10.10.2020 को धर्मराज टांडेकर को अस्पताल परिसर में धमकी देना एंव कर्मचारियों से सभी विवाद को स्वीकार करता हूँ एवं सभी कर्मचारियों से सार्वजनिक रूप से माफी मांगता हु एवं आज दिनांक 12.10.2020 को शपथ पूर्वक कथन करता हुँ कि भविष्य में धर्मराज टांडेकर एवं लैब में पदस्थ सभी कर्मचारियों के किसी भी कार्य पर हस्तक्षेप नही करूंगा में यह भी कथन करता हूँ कि धर्मराज टांडेकर या अन्य किसी भी कर्मचारी के साथ कोई अप्रिय घटना या ट्रांसफर एंव अटैच मेन्ट मेरे कहने पर भी होगा जिसका में ही जिम्मेदार रहूंगा। शपथ पूर्वक यह कथन करता हूँ कि आज दिनांक12.10.2020 से अस्पताल परिसर पर सिर्फ इलाज के अलावा प्रवेश नही करूगा जिसके बाद जुन्नारदेव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत कर्मचारियो का गुस्सा शांत हुआ ।