राम मंदिर निर्माण से खुश हनुमान भक्त कमलनाथ, भेज रहे हैं 11 चांदी की शिला

0
3

पूर्व सीएम कमलनाथ ने  कहा- राजीव गांधी आज सबसे ज्यादा खुश होते

कांग्रेस के ट्विटर हैंडल पर कमलनाथ के हनुमान चालीसा का पाठ की तस्वीर लगी

भोपाल, कांग्रेस नेताओं से अलग हट कर एमपी के पूर्व सीएम कमलनाथ ने राम मंदिर निर्माण का स्वागत किया है। उन्होंने मंदिर निर्माण को लेकर खुशी जाहिर की है। कमलनाथ ने कहा है कि भगवान राम सबके हैं। यह हम सभी के लिए खुशी का वक्त है। कमलनाथ ने कहा कि मंदिर निर्माण को लेकर आज पूर्व पीएम राजीव गांधी को सबसे ज्यादा खुशी होती, अगर वह जीवित होते। पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा कि हम राम मंदिर निर्माण का स्वागत करते हैं। राजीव गांधी जी ने 1985 में इसकी शुरुआत की थी। 1989 में शिलान्यास किया था। राजीव जी के कारण ही राम मंदिर का सपना आज साकार हो रहा है।आज राजीव जी होते तो यह सब देखते। हम राम मंदिर निर्माण के लिये प्रदेश की जनता की ओर से 11 चांदी की शीला भेज रहे हैं।

कांग्रेस के नेता राम मंदिर निर्माण का स्वागत कर रहे हैं
एमपी में कांग्रेस ने भी आज अपना प्रोफाइल पिक्चर बदल दिया है। कांग्रेस के ट्विटर हैंडल पर कमलनाथ के हनुमान चालीसा का पाठ की तस्वीर लगी है। यहीं नहीं कांग्रेस दूसरे नेताओं की तस्वीर और वीडियो भी शेयर किया जा रहा है। इसमें कांग्रेस के नेता राम मंदिर निर्माण का स्वागत करते नजर आ रहे हैं। पूर्व सीएम कमलनाथ ने खुद भी राम मंदिर निर्माण का स्वागत किया है।

राम सब के हैं: विवेक तन्खा
वहीं, कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने भी एक ट्वीट किया है। उन्होंने जबलपुर में लगाए गए राम भगवान के 200 होर्डिंग के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि राम सब के हैं, वह हिंदू समाज के सबसे बड़े आस्था के केंद्र हैं, किसी पार्टी विशेष के नहीं हैं। तन्खा ने कहा है कि सौभाग्यवश उमा भारती जी का भी देश को यह संदेश है।

कांग्रेस कमलनाथ को हनुमान भक्त के रूप में पेश कर रही
दरअसल, कमलनाथ ने अपने 15 महीने के कार्यकाल के दौरान सनातन संस्कृति की रक्षा के लिए कई काम किए थे। उसे भी आज एमपी कांग्रेस गिना रही है। जिसमें एमपी में अध्यात्म विभाग की स्थापना भी शामिल है। इसके साथ ही उन्होंने राम गवन पथ निर्माण का भी निर्णय लिया था। कांग्रेस कमलनाथ को हनुमान भक्त के रूप में पेश कर रही है।

एक दिन पहले भगवाधारी हुए कमलनाथ
दरअसल, बुधवार को अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन है। उससे एक दिन पहले कमलनाथ भगवाधारी हो गए हैं। पूर्व सीएम कमलनाथ ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर नई तस्वीर लगाई है। इस तस्वीर में वह भगवा वस्त्र में नजर आ रहे हैं। साथ ही उन्होंने प्रोफाइल फोटो भी बदल दिया है।

धर्म पर बीजेपी का पेटेंट नहीं है
उन्होंने कहा कि यह भारत की संस्कृति सभी को जोड़ने वाली है। यहां विभिन्न भाषाएं, विभिन्न धर्मों के लोग रहते हैं। यह हमारी पहचान है। हम जब भी कुछ करते हैं, बीजेपी के पेट में दर्द पता नहीं क्यों चालू हो जाता है। क्या धर्म पर उनका पेटेंट है, उनका ठेका है, उन्होंने धर्म की एजेंसी ली हुई है क्या ? कमलनाथ ने कहा कि मैंने छिंदवाड़ा में हनुमान जी की मूर्ति स्थापित की। हमने अपनी सरकार में गौशालाएं बनवाई, राम वन गमन पथ के निर्माण की बाधाएं दूर कीं, महाकाल और ओंकारेश्वर मंदिर के विकास की योजना बनाई है।

धर्म का उपयोग राजनीति के लिए नहीं करते
पूर्व सीएम ने कहा कि बस हम धर्म का उपयोग राजनीति के लिए नहीं करते हैं, हम इसे इवेंट नहीं बनाते हैं। हम सभी की सोच धार्मिक है लेकिन हम धर्म और राजनीति का गठजोड़ नहीं करते हैं। आज का हमारा आयोजन भावना की लाइन है।

प्रदेश की खुशहाली के लिए हनुमान चालीसा का पाठ किया
मुहूर्त को लेकर कमलनाथ ने कहा कि मैं कोई भी काम मुहूर्त देख कर नहीं करता हूं। मैंने प्रदेश की खुशहाली के लिए हनुमान चालीसा का पाठ किया है। साधु, संत और शंकराचार्य का मुझे आशीर्वाद मिला है।