कांग्रेस को राजस्थान में 2 और भाजपा को मिली राज्यसभा की 1 सीट पर जीत

0
240

जयपुर, राजस्थान से राज्यसभा की तीन सीटों के लिए शुक्रवार को हुए मतदान में के बाद कांग्रेस उम्मीदवार केसी वेणुगोपाल और नीरज डांगी के साथ बीजेपी के उम्मीदवार राजेंद्र गहलोत को विजयी घोषित कर दिया गया। इससे पहले राज्य विधानसभा में सुबह नौ बजे मतदान की प्रक्रिया शुरू हुई जो शाम चार बजे तक चली। राजधानी में हुए इन द्विवार्षिक चुनाव के लिए मतदान चार बजे सम्पन्न हुआ। कुल 200 विधायकों में से 198 ने वोट डाले। स्वास्थ्य कारणों से सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल तथा डूंगरगढ़ से सीपीएम विधायक गिरधारी लाल मतदान नहीं सके।

सत्ताधारी कांग्रेस और विपक्षी भाजपा ने अपनी अपनी पार्टियों और उनको सर्मथन दे रहे विधायक अलग-अलग होटलों से सीधे मतदान के लिए विधानसभा पहुंचे। ये सभी विधायक अलग-अलग बसों से विधानसभा पहुंचे और काेरोना वायरस के चलते सदन में भी उन्हें विशेष एहतियात और सुरक्षा किट के साथ प्रवेश दिया गया। मतदान के दौरान सैनिटाईजेशन, सामाजिक दूरी सहित अन्य विशेष व्यवस्था की गई थी।

राजस्थान में यह रहा वोट का गणित
राज्य सभा चुनाव के लिए 3 सीटों के लिए राजस्थान विधानसभा से 4 प्रत्याशी मैदान में थे। इस हिसाब से एक सीट पर जीत के लिए 51 वोट मिलना जरूरी था। ऐसे में कांग्रेस के 2 उम्मीदवारों की जीत के लिए पार्टी को 102 मतों की आवश्कता थी और उसके पास फिलहाल 107 का बहुमत था। इस लिहाज से सीधे-सीधे कांग्रेस प्रत्याशियों की जीत लगभग तय थी। लेकिन दूसरी ओर बीजेपी के पास कुल 75 सीटें है और उनका पहला प्रत्याशी की 51 वोटों से जीत तय थी।