3 हजार से अधिक शिकायतों का मौके पर निराकरण

0
3

भोपाल

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कार्यक्षेत्र के भोपाल, नर्मदापुरम्, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के 16 जिलों के अंतर्गत कंपनी द्वारा सितंबर माह के प्रथम पखबाड़े में उपभोक्ता शिकायतों के त्वरित समाधान के लिए आयोजित 300 शिकायत निवारण शिविरों में 3 हजार 795 शिकायतें प्राप्त हुईं। इनमें से 3 हजार 377 शिकायतों का मौके पर ही निराकरण कर दिया गया।  शेष शिकायतों के निराकरण की कार्यवाही की जा रही है।

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि बिजली शिकायतों के निराकरण के लिए बिजली वितरण कंपनियां संवेदनशील हैं। उन्होंने उपभोक्ताओं से कहा कि बिजली की मैदानी शिकायतों के हल के लिए ग्रामीण क्षेत्र में हाट बाजार और वितरण केंद्रों पर शिकायतों को हल करने की योजना को प्रत्येक माह अमल में लाया जाएगा।

        शिकायत निवारण शिविरों में मुख्यतः विलंब से बिलों का वितरण, बिल प्राप्त न होना, अधिक बिल राशि, मीटर वाचन देरी से होना, गलत रीडिंग होना, ऑनलाइन बिल जनरेट न होना, ऑनलाइन की गई पेमेंट न दिखना, विद्युत प्रदाय, नवीन कनेक्शन, भार वृद्धि से संबंधित शिकायतें प्राप्त हुई हैं।  

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के भोपाल रीजन के अंतर्गत 185 शिविरों में कुल 2 हजार 498 शिकायतें प्राप्त हुई, जिनमें से 2 हजार 320 शिकायतों का मौके पर निराकरण कर दिया गया।  ग्वालियर रीजन के अंतर्गत 115 शिविरों में कुल 1 हजार 297 शिकायतें प्राप्त हुई, जिनमें से 1 हजार 57 शिकायतों को मौके पर ही निराकृत कर दिया गया तथा शेष शिकायतों का निराकरण जल्दी ही कर लिया जाएगा।   

गौरतलब है कि इन शिकायत निवारण शिविरों में अधिक बिल राशि की 1 हजार 527, बिल प्राप्त न होने की 214, गलत रीडिंग की 444, नवीन कनेक्शन की 210, भार वृद्धि की 96, विद्युत प्रदाय की 202, देरी से रीडिंग की 17, रीडिंग नहीं लेने की 63, ऑनलाइन संबंधी 47 एवं अन्य 882 शिकायतें प्राप्त हुई जिन्हें मौके पर ही हल कर दिया गया। साथ ही 322 कनेक्शनों की 15 लाख 93 हजार की बकाया राजस्व वसूली भी की गई।

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक विशेष गढ़पाले ने घरेलू, गैर घरेलू  एवं अन्य श्रेणी के बिजली उपभोक्ताओं से कहा है कि वे नज़दीकी वितरण केन्द्र अथवा शहरी जोन में जाकर अपनी बिजली शिकायतों का निराकरण करा सकते हैं। उन्होंने कहा कि WhatsApp Chatbot 0755255122 अथवा UPAY App अथवा 1912 पर शिकायतों का निराकरण कराया जा सकता है। गढ़पाले ने कहा बिजली कंपनी उपभोक्ताओं को बेहतर सेवाएं देने के लिए कृत-संकल्पित है।