सुशांत सिंह राजपूत मौत: पाकिस्तान तक जुड़े ड्रग्स के तार, NCB के रडार पर बॉलीवुड के बड़े ग्राहक

0
1

नई दिल्ली
बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग एंगल की पड़ताल कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की जांच का दायरा विस्तार ले रहा है। इस मामले के तार पंजाब के अमृतसर और पाकिस्तान में मौजूद बड़े ड्रग तस्करों तक जुड़ गए हैं, जो मुंबई और बॉलीवुड में कोकीन और दूसरे ड्रग्स की सप्लाई कर रहे हैं।  NCB बॉलीवुड में इसके खरीदारों, ड्रग पहुंचाने वालों और सप्लायर्स के साथ उन लोगों का पता लगा रही है जो इस धंधे को चला रहे हैं। इसकी उभरती हुई तस्वीर यह है कि बॉलीवुड के कई पूर्व और मौजूदा ए-लिस्टर्स और अन्य एजेंसी के रडार पर आ चुके हैं। सुशांत सिंह राजपूत केस में जांच से अवगत NCB के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर बताया, ''हमें काफी पता चल गया है कि बॉलीवुड ड्रग सीन में कौन कौन शामिल हैं और कौन मुंबई के सप्लायर्स हैं। हेरोइन, कोकीन और मेथम्फेटामाइन सहित हार्ड ड्रग्स के उपभोक्ताओं और उनके सप्लायर्स पर आरोप लगाए जाने से पहले सबूत एकत्रित किए जा रहे हैं।''

अमृतसर के एक अहम लिंक को केंद्रीय एजेंसी की ओर से इस सप्ताह समन किए जाने की उम्मीद है। एजेंसी ने मुंबई में कोकीन के सप्लायर्स को पूरी तरह पर्दाफाश करने के लिए अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया की जांच एजेंसियों से भी मदद मांगी है।  एक सहयोगी जांच एजेंसी की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक, 2018 में भारत में करीब 1200 किलोग्राम कोकीन आया। इसमें से करीब 300 किलोग्राम केवल मुंबई पहुंचा। ऑस्ट्रेलिया में जून 2019 में 55 किलो कोकीन जब्त किए जाने के बाद जांच के दौरान ये आंकड़े सामने आए। एक ही संगठन दोनों तस्करी के पीछे था। NCB ने ऑस्ट्रेलियन रिपोर्ट के आधार पर पहले ही केस दर्ज कर लिया है। NCB के अधिकारियों के मुताबिक, भारत में अधिकतर कोकीन कोलंबिया, ब्राजील-मोजंबिक रूट से आता है। इसके अलावा अफ्रीकी और दुबई इलाकों का भी कई बार विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। अधिकारी ने बताया कि चूंकि भारत पोटेशियम परमैंगनेट का सबसे बड़ा उत्पादक है, जिसका इस्तेमाल कोकीन प्रोसेसिंग में किया जाता है, कुछ संगठनों की योजना भारत में प्रोसेसिंग यूनिट लगाने की भी थी।

भारत में हर दिन करीब 1 टन हेरोइन का उपभोग होता है, सहयोगी एजेंसी ने NCB को इस संभावना को लेकर अलर्ट किया है कि भारत में अफगान हेरोइन पाकिस्तान से पंजाब होते हुए या समुद्री रास्ते से गुजरात आ रहा है। पाकिस्तान आतंकवादियों की फंडिंग के लिए ड्रग्स के पैसों का इस्तेमाल हमेशा से करता रहा है। NCB सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग एंगल की गहन पड़ताल कर रही है, मामले को सावधानी पूर्वक हैंडल किया जा रहा है। NCB अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र के राजनेताओं से जुड़े ड्रग डीलर्स और फिल्म अभिनेताओं और अभिनेत्रियों की ओर से मैनेज किए जा रहे कंपनियों के नाम भी सामने आ रहे हैं।