सिख सुरक्षाकर्मी की पगड़ी खींचने पर भड़के हरभजन,ममता से की कार्रवाई की मांग

0
3

   नई दिल्ली

पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह ने बंगाल में एक सिख सुरक्षाकर्मी की पिटाई के दौरान पगड़ी उतारने पर नाराजगी जताई है और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से इस मसले को देखने का अनुरोध किया है. बंगाल में एक सिख सुरक्षाकर्मी की पिटाई का एक वीडियो भी वायरल हुआ है जो एक बीजेपी नेता की सुरक्षा में तैनात था. पिटाई के दौरान उसकी पगड़ी खुल गई.

हरभजन सिंह ने बीजेपी नेता इंप्रीत सिंह बक्शी का एक वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मामले में कार्रवाई की मांग की है.

बंगाल बीजेपी के स्थानीय नेता प्रियांगू पांडेय की सुरक्षा में तैनात सिख सुरक्षाकर्मी बलविंदर सिंह की पगड़ी खींचने का एक वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में कोलकाता पुलिस इस सुरक्षाकर्मी की पिटाई करती दिख रही है, जिसके दौरान उसकी पगड़ी खुल जा रही है. अब दोषी पुलिसवालों पर कार्रवाई की मांग हो रही है. इस वीडियो पर अब तक बंगाल सरकार या पुलिस की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है लेकिन बीजेपी के खिलाफ टीएमसी जरूर आक्रामक है.

दिल्ली बीजेपी नेता इंप्रीत सिंह बक्शी ने ट्वीट कर कहा कि प्रियांगू पांडेय की सेक्युरिटी में तैनात बलविंदर सिंह की पगड़ी खींच-खींच कर उतारना, सड़क पर घसीट कर बर्बर तरीके से पीटा जाना बंगाल पुलिस की बर्बरता दर्शाता है. ममता बनर्जी दोषी पुलिसवालों पर सख्त कार्रवाई करो. इसी पगड़ी वाले सिखों ने बांग्लादेश बनाया था.

कल बीजेपी ने बिगड़ती कानून व्यवस्था का आरोप लगाकर सचिवालय चलो का मार्च निकाला था, बदले में पुलिस ने उन्हें रोका और फिर 3 घंटों तक सड़कों पर संग्राम होता रहा. इसके बाद आज शुक्रवार को राज्य की पुलिस ने गैरकानूनी ढंग से जमा होने के आरोपों पर बंगाल बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय और वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय समेत कम से कम 20 नेताओं पर FIR की है.

बंगाल में ममता बनर्जी के खिलाफ BJP की रैली पर पुलिस का ये शक्ति प्रदर्शन ही राजनीतिक हंगामे की वजह बन रहा था, लेकिन ममता की पुलिस ने एक कदम आगे बढ़ते हुए वरिष्ठ बीजेपी नेताओं कैलाश विजयवर्गीय, अर्जुन सिंह, लॉकेट चैटर्जी समेत 20 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है. इन नेताओं पर गैरकानूनी ढंग से जमा होने और हाई सिक्युरिटी जोन नाबन्ना होने में इकट्ठा होने के चलते केस दर्ज हुआ है.